Thursday , February 25 2021

‘मुझे बंदूक दिखाओगे तो मैं बंदूक का संदूक दिखाऊँगी’: BJP पर बरसीं ‘जय श्री राम’ से भड़कीं ममता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विक्टोरिया मेमोरियल में हुई घटना के संबंध में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा/BJP) के ऊपर निशाना साधा है। उन्होंने सोमवार (जनवरी 25, 2021) को हुगली के पुरसुआ में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा चाहे तो उनकी बेइज्जती कर सकती है, लेकिन पश्चिम बंगाल का अपमान वह किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगी।

भाजपा को ‘भगवा’ पार्टी करार देते हुए सीएम बनर्जी ने जनता से कहा, “अगर भाजपा पैसे दे तो ले लेना लेकिन वोट TMC को ही देना। बीजेपी पूरी तरह फर्जी है। वो मेरी बेईज्जती कर सकते हैं, लेकिन पश्चिम बंगाल का अपमान बर्दाश्त नहीं करूँगी। बीजेपी एक महिला की इज्जत करना भी नहीं जानती।”

शुभेंदु अधिकारी पर निशाना साधते हुए बनर्जी ने कहा कि जो लोग टीएमसी छोड़ कर भाजपा के साथ मिल रहे हैं वो लालच में भगवा पार्टी से जुड़ रहे हैं। वह बोलीं, “जो बीजेपी के साथ जुड़ने जा रहे हैं। मैं उन्हें बताना चाहती हूँ। जल्दी-जल्दी टीएमसी छोड़ो। उन्हें टीएमसी से कभी टिकट नहीं मिलती इसलिए वह TMC छोड़ रहे हैं। बीजेपी के पास तांडव करने के अतिरिक्त कोई विकल्प नहीं है।”

विक्टोरिया मेमोरियल घटना पर सीएम बनर्जी ने कहा, “मैं नेताजी के कार्यक्रम में गई। उनकी हिम्मत कैसे हुई! मुझे चिढ़ाने की, वो भी देश के प्रधानमंत्री के सामने। वो मुझे नहीं जानते।” उन्होंने कहा कि यदि उन्हें बंदूक दिखाई गई तो वह बंदूक का संदूक दिखा सकती हैं, लेकिन वह राजनीति में विश्वास करती हैं, बंदूक में नहीं।

वह कहती हैं, “अगर उन्होंने नेताजी का नारा बुलंद किया होता तो मैं उनकी तारीफ करती लेकिन उन्होंने रबीन्द्रनाथ टैगोर का अपमान किया है।” सीएम ने कहा कि भाजपा का नाम ‘भारत जलाओ पार्टी रखा जाना चाहिए।

गौरतलब है कि हाल में पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में आयोजित नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती समारोह में जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मंच पर सम्बोधन देने आईं तो भीड़ में से कुछ लोगों ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगा दिए, जिसे उन्होंने अपनी बेइज्जती करार देते हुए भाषण देने से इनकार कर दिया। इसके बाद सोशल मीडिया पर भी ‘ममता बनर्जी को जय श्री राम’ ट्रेंड होने लगा। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति