Saturday , February 27 2021

भरे सदन में बोले PM- जो मनमोहन सिंह को करना था वो नरेन्‍द्र मोदी कर रहे हैं, आपको गर्व करना चाहिए

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज कृषि कानूनों को लेकर छिड़े आंदोलन के बारे में सदन में अपनी सरकार का पक्ष रखा इसके साथ ही उन्‍होंने विपक्ष को भी जमकर घेरा । पूर्व की सरकारें किस तरह से किसानों के हक की बात करती रही हैं और अब जब उनकी सरकार किसानों के फायदे का बिल लेकर आई तो किस तरह से विपक्षियों ने यूटर्न ले लिया है, पीएम ने इस पर जमकर सदन में विपक्ष की खिंचाई भी की । पीएम ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बयान का भी जिक्र किया ।

प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व पीएम का कथन पढ़ा

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने सदन में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के एक बयान का भी जिक्र कियर, उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने एक बाजार की पैरवी की थी, हमने वह कर दिया है, लेकिन अब कुछ राजनीतिज्ञ यू-टर्न मार रहे हैं, आप गर्व कीजिए । पीएम नरेंद्र मोदी ने सदन में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का कथन पढ़ा जो इस तरह है –  ‘हमारी सोच है कि बड़ी मार्केट को लाने में जो अड़चने हैं, हमारी कोशिश है कि किसान को उपज बेचने की इजाजत हो’. पीएम मोदी ने कहा कि जो मनमोहन सिंह ने कहा वो मोदी को करना पड़ रहा है, आप तो गर्व कीजिए।

कांग्रेस के नेताओं का किया जिक्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा कि शरद पवार समेत कई कांग्रेस के नेताओं ने भी कृषि सुधारों की बात की है । शरद पवार ने अभी भी सुधारों का विरोध नहीं किया, हमें जो अच्छा लगा वो किया आगे भी सुधार करते रहेंगे । पीएम मोदी ने सदन में कहा कि आज विपक्ष यू-टर्न कर रहा है, क्योंकि राजनीति हावी है । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन में कहा कि चुनाव के वक्त कर्जमाफी की जाती है, लेकिन उससे छोटे किसान को फायदा नहीं होता है । मोदी सरकार की फसल बीमा योजना भी बड़े किसानों के लिए थी, जो सिर्फ बैंक से लोन लेता था ।

किसानों के लिए बनाई कई नीतियां, काम किया

पीएम मोदी ने सदन में कहा कि 2014 के बाद से हमने कई परिवर्तन किए और फसल बीमा के दायरे को भी बढ़ा दिया । फसल बीमा योजना के तहत देश के किसानों को 90 हजार करोड़ रुपये दिए गए । इतना ही नहीं हमने करीब पौने दो करोड़ लोगों तक किसान क्रेडिट कार्ड को पहुंचाया है । प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने किसान सम्मान निधि योजना लागू की, दस करोड़ परिवारों इसका लाभ मिला और 1.15 लाख करोड़ किसानों के खाते में गया है । पीएम यहां बंगाल की बात करना नहीं भूले, उन्‍होंने कहा कि अगर बंगाल में राजनीति आड़े में ना आती, तो वहां के लाखों किसानों को लाभ मिलता । हमने सौ फीसदी किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड पेश किया ।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति