Sunday , March 7 2021

43 वर्षीय शख्स ने नाबालिग बच्ची का रेप कर काटा गला: कोलकाता पुलिस ने किया गिरफ्तार

कोलकाता के जोराबगन इलाके में एक 43 वर्षीय शख्स को एक नाबालिग बच्ची का रेप और फिर उसकी हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपित की पहचान बिहार के बेगूसराय जिले के बलिया के रहने वाले रणवीर तांती उर्फ रघुबीर के रूप में हुई है। संयुक्त पुलिस आयुक्त (क्राइम) मुरलीधर शर्मा ने इसकी जानकारी दी। बता दें कि मामले में यह दूसरी गिरफ्तारी है।

पूछताछ के दौरान आरोपित ने बताया कि उसने एक सिक्योरिटी गॉर्ड के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने आरोपित सिक्योरिटी गार्ड राम कुमार को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। आरोपित को सोमवार (फरवरी 08, 2021) दोपहर में गिरफ्तार किया गया। रात भर पूछताछ के बाद 43 वर्षीय शख्स ने अपना जुर्म कबूल लिया है।

पुलिस के सामने उसने गार्ड के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम देने की बात कबूल की। शख्स के खिलाफ पोक्सो एक्ट, आईपीसी की धारा 302, 376 बी के तहत मामला दर्ज किया गया है। पीड़िता सोवाबाजार की रहने वाली थी और अपने मामा के घर जोराबगन आई हुई थी।

पुलिस अधिकारी ने बताया, “घटना की शाम आरोपित पूरी तरह नशे में धुत था और उसने चॉकलेट और खाने की चीजों का लालच देकर बच्ची को बुलाया और उसका यौन उत्पीड़न किया। उसके बाद उसने बच्ची का गला घोंट कर हत्या कर दी। उसकी मौत सुनिश्चित करने के लिए उसका गला काट दिया। ऐसा लगता है कि अपराधी नाबालिग पीड़िता को जानते थे। इसीलिए उन्होंने उसे मार डाला।” पुलिस को बच्ची के शव के आसपास सीढ़ियों से कुछ दाँत और बाल मिले।

बुधवार (फरवरी 03, 2021) से उसकी कोई खोज खबर नहीं थी जिसके बाद परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। कोलकाता के जोराबागान इलाके में गुरुवार (फरवरी 04, 2021) सुबह नौ साल की एक बच्ची का शव एक बहुमंजिला इमारत की सीढ़ियों के पास रहस्यमय हालात में मिला। बच्ची की हत्या गला रेतकर की गई थी। दाँत तोड़ दिए गए थे। बच्ची के शरीर पर पूरे कपड़े भी नहीं थे। शरीर पर चोट के कई निशान थे।

शहर के संयुक्त पुलिस आयुक्त (क्राइम) मुरलीधर शर्मा के नेतृत्व में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा किया। कथित तौर पर बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया है और इसके बाद सबूत मिटाने के लिए उसकी हत्या की गई है।

सबूतों को इकट्ठा करने के लिए कोलकाता पुलिस की होमिसाइड सेल की एक फोरेंसिक टीम और अधिकारी भी मौके पर पहुँचे हुए थे। शुरुआती जाँच में आया है कि बच्ची को कुछ खिलाने या खिलौने का लालच देकर आरोपित अपने साथ लाया होगा। पुलिस ने जाँच पड़ताल के बाद दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति