Friday , June 18 2021

बजरंग दल कार्यकर्ता के घर में घुसे 25-30 लोग, पीठ में चाकू घोंप हत्या: इस्लाम, दानिश, दिलशान और दिलशाद गिरफ्तार

नई दिल्‍ली। दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या होने के बाद से तनाव है। कथित तौर पर 25-30 लोगों के समूह ने बुधवार (10 फरवरी 2021) को घर में घुसकर 26 वर्षीय रिंकू शर्मा पर हमला किया। वे अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए चलाए जा रहे धन संग्रह अभियान में सक्रिय थे।

रिपोर्टों के अनुसार पुलिस ने इस मामले में चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इनकी पहचान मोहम्मद इस्लाम, दानिश नसीरुद्दीन, दिलशान और दिलशाद इस्लाम के तौर पर हुई है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार शर्मा पश्चिम विहार स्थित एक अस्पताल में बतौर लैब टेक्नीशियन काम करते थे और उनका पूरा परिवार बजरंग दल से जुड़ा था। रिंकू के परिवार में मॉं राधा देवी, पिता अजय शर्मा और भाई अंकित एवं मनु हैं।

सोशल मीडिया पर इस समय इस घटना का एक वीडियो वायरल है। वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे कुछ लोग रिंकू के घर में घुस कर जोर-जबरदस्ती कर रहे हैं। पत्रकार गौरव मिश्रा के अकाउंट पर ये वीडियो अपलोड है। इसमें देख सकते हैं कि कैसे कुछ युवक गाली-गलौच करते हुए रिंकू के घर में लाठी लेकर घुसे और मारपीट की। महिला से सिलेंडर छीनने का प्रयास किया और फिर एकदम से लाठियाँ चलाने लगे।

सोशल मीडिया में रिंकू के पिता का रोते-बिलखते वीडियो भी आया है। वीडियो में वे बता रहे हैं कि किस बर्बरता से उनके बड़े बेटे को मारा गया। साथ ही उनके छोटे बेटे पर भी हमला हुआ। रिंकू के पिता कहते हैं कि अचानक गेट खोलने के लिए आवाज आई और जैसे ही उनका छोटा बेटा गेट खोलने गया, सामने से 25-30 लोग आए। उन सबके हाथ में लाठियाँ थी। मेरे छोटे बच्चे को भी मारा। फिर वो घर में घुस गए। रिंकू किसी तरह बाहर भागा… थोड़ी देर बाद वे गेट पर लाठी बजाकर गए कि मार दिया, जा बचा ले अपने बच्चे को। पीछे से एक महिला ने बताया कि रिंकू को चाकू मार दिया है।

रिंकू के पिता के अनुसार कि इससे पहले भी भगवान राम को लेकर विवाद हुआ था। वे लोग मोदी को गाली देते थे। हमने तब समझौता कर लिया था। लेकिन इस बार उनके हाथ में लाठियाँ थीं, चाकू थे, वे सिलेंडर खोल रहे थे।

रिपोर्ट के अनुसार बीते महीने इलाके में राम मंदिर निर्माण को लेकर एक जागरुकता रैली निकाली गई थी। उस दौरान रिंकू का विवाद हो गया था। उस समय स्थानीय लोगों के हस्तक्षेप से मामला खत्म हो गया था। इसके बाद एक जन्मदिन पार्टी में रिंकू का आरोपितों से विवाद हुआ था। उसके बाद बुधवार की रात उसके घर में घुसकर हमला किया गया। हमलावरों के जाने के बाद लोग रिंकू को संजय गाँधी अस्पताल ले गए। इलाज के दौरान गुरुवार दोपहर उन्होंने दम तोड़ दिया।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति