Saturday , June 19 2021

दामाद हर घर में होता है, लेकिन कांग्रेस में यह एक विशेष नाम है- राज्यसभा में बोलीं सीतारमण

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्यसभा में बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए कांग्रेस पर ‘दामाद’ शब्द का इस्तेमाल करते हुए तंज कसा। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं लगता दामाद शब्द कांग्रेस का ट्रेड मार्क है। दामाद हर घर में होता है, लेकिन कांग्रेस में यह एक विशेष नाम है। इससे पहले उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष में कुछ लोगों को हमारे ऊपर लगातार आरोप लगाने की आदत बन गई है। इसके बावजूद हम गरीबों के लिए काम कर रहे हैं। इस देश के गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। आरोप लगाने के लिए झूठे नैरेटिव बनाए जा रहे हैं। कहा जाता है कि ये सरकार केवल पूंजीपतियों के लिए काम कर रही है।

बता दें कि उन्होंने एक फरवरी को लोकसभा में वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश किया था। आमतौर पर वित्त मंत्री पहले लोकसभा में बजट पर चर्चा का जवाब देती हैं और उसके बाद राज्यसभा में, लेकिन इस बार केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों पर विपक्ष के गतिरोध के कारण लोकसभा में चर्चा की शुरुआत राज्यसभा के बाद हुई।

– सीतारमण ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए इस दौरान कहा कि अगस्त 2016 से जनवरी 2020 तक यूपीआइ के माध्यम से डिजिटल लेनदेन की संख्या 3.6 लाख करोड़ से अधिक रही। यूपीआइ का उपयोग कौन करता है? धनी लोग?  नहीं मध्यम वर्ग और छोटे व्यापारी। फिर ये लोग कौन हैं? क्या सरकार यूपीआइ पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए लेकर आई? या किसी दामाद के लिए? मुद्रा योजना के तहत  27,000 करोड़ रुपये से अधिक का लोन स्वीकृत किया गया। मुद्रा योजना से लाभ कौन लेता है? दामाद?

राज्यसभा में बजट चर्चा पर जवाब देते कहा कि पीएम आवास योजना के तहत 1.67 करोड़ से अधिक घर बनाए गए। क्या यह अमीरों के लिए है? 17 अक्टूबर के बाद से प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के तहत 2.67 से अधिक घरों का विद्युतीकरण किया गया। सरकार के ई मार्केट पर ऑर्डर का मूल्य 8,22,077 करोड़ रुपये है। क्या उन्हें बड़ी कंपनियों को दिया जा रहा है? उन्हें एमएसएमइ को दिया जा रहा है।

– सीतारमण ने अपनी भाषण के शुरुआत में कहा कि यह एक ऐसा बजट है जो स्पष्ट रूप से अनुभव, प्रशासनिक क्षमताओं और प्रधानमंत्री के लंबे निर्वाचित कार्यकाल के एक्सपोजर को दर्शाता है। इस देश के सीएम और पीएम के तौर पर उन्हें विकास, प्रगति और सुधारों के लिए अपनी प्रतिबद्धता के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि 80 करोड़ लोगों को मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया। आठ करोड़ लोगों को मुफ्त में रसोई गैस उपलब्ध कराई गई थी और 40 करोड़ लोगों, किसानों, महिलाओं, दिव्यांग, गरीबों और जरूरतमंदों को सीधे नकद राशि दी गई।

– टीएमसी के राज्यसभा सांसद दिनेश त्रिवेदी ने आज राज्यसभा से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा,’ मेरे राज्य में हिंसा हो रही है। हम यहां कुछ भी नहीं बोल सकते। मेरी पार्टी का आभारी हूं कि उन्होंने मुझे यहां भेजा है। मुझे घुटन महसूस हो रही है कि हम राज्य में हिंसा पर कुछ नहीं कर पा रहे हैं। मेरी आत्मा मुझसे कहती है कि यदि आप यहां बैठे कुछ नहीं कर सकते, तो आपको इस्तीफा दे देना चाहिए। मैं बंगाल के लोगों के लिए काम करना जारी रखूंगा।’

– कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने लद्दाख में भारतीय-चीन डिसइंगेजमेंट पर चर्चा की मांग को लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया।

– – बहुजन समाज पार्टी के सांसद रितेश पांडे ने लोकसभा में ‘भारत के सभी हिस्सों में बच्चों के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की समान पहुंच’ के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

– कांग्रेस सांसद के सुरेश और टीएन प्रतापन ने ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी पर चर्चा की मांग लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव दिया

– राज्यसभा में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि बजट में 65 हजार करोड़ का एक बड़ा हिस्सा पीएम किसान योजना में दिया गया है। विपक्ष कहता है कि कृषि कानून काला कानून है, जिसकी नजर ही काली होगी तो सोच भी वैसी ही होगी। किसानों की आय दोगुनी करने के लिए ही इस कानून को लाया गया है। हम किसानों की आय दोगुनी करके ही छोड़ेंगे।

– राज्यसभा में वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर मैं कांग्रेस और विपक्षी नेताओं को चुनौती देता हूं वह दिखाएं कि यह कहां लिखा है कि मंडी और न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रणाली समाप्त हो जाएगी। हम भारत को आगे ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

– राज्यसभा में वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि यह बजट नए भारत, एक मजबूत भारत के निर्माण और एक आत्मनिर्भर भारत के निर्माण की उम्मीद को दर्शाता है। यह हमें एक आर्थिक और विनिर्माण महाशक्ति बनने के मार्ग पर ले जाएगा। इसमें विशेष तौर पर देखा जाए तो पूंजीगत व्यय में 34.5 प्रतिशत की वृद्धि की गई है जो अपने आप में रिकॉर्ड है।

– कांग्रेस ने राज्यसभा के सभापति को सदन में विपक्ष के नेता के रूप में मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम सौंपा है। वह गुलाम नबी आजाद की जगह लेंगे। उनका कार्यकाल 15 फरवरी को खत्म होगा। खड़गे 2014 से 2019 तक लोकसभा में कांग्रेस के नेता रहे।

– राज्यसभा में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेल दुर्घटना के कारण अंतिम यात्री की मृत्यु 22 मार्च 2019 को हुई थी। लगभग 22 महीनों के दौरान, रेल दुर्घटना के कारण एक भी यात्री की मृत्यु नहीं हुई है।

– राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई।

– सरकार ने पूरक अनुदान मांगों के दूसरे और अंतिम हिस्से के रूप में 2020-21 के लिए संसद से 6.28 लाख करोड़ रुपये के सकल अतिरिक्त खर्च की मंजूरी देने की मांग की है।

– वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज राज्यसभा में बजट चर्चा पर जवाब देंगी।

– शनिवार यानी 13 फरवरी को राज्यसभा की बैठक नहीं होगी। राज्यसभा सचिवालय के एक आधिकारिक आदेश में इसकी जानकारी दी गई। बजट सत्र 29 जनवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा संसद के दो सदनों के संयुक्त बैठक के संबोधन के साथ शुरू हुआ। सत्र का पहला चरण 15 फरवरी तक चलने वाला था। हालांकि, बाद में इसे 13 फरवरी तक कर दिया गया । सत्र का दूसरा चरण 8 मार्च से 8 अप्रैल तक आयोजित किया जाएगा।

– आरजेडी सांसद मनोज कुमार झा ने राज्यसभा में ‘बिहार में कोरोना परीक्षण डेटा के कथित धोखाधड़ी और हेरफेर’ को लेकर शून्यकाल नोटिस दिया है।

– भाजपा सांसद दीपक प्रकाश ने राज्यसभा में ‘राज्य सरकारों द्वारा केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को लागू नहीं करने’ को लेकर शून्यकाल नोटिस दिया है।

– टीएमसी सांसद अबीर रंजन विश्वास ने राज्यसभा में ‘सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की बिक्री’ को लेकर शून्यकाल नोटिस दिया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति