Tuesday , March 9 2021

बार डांसर के साथ मादक डांस करते दरगाह के सदर अरब अली का वीडियो वायरल, मजहबी संगठनों का पारा गरम

इंदौर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर बड़े स्तर पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में खजराना स्थित नाहरशाहवली दरगाह के सदर, अरब अली पटेल बार डांसर के साथ डांस करते और उसे गले लगाते हुए देखे जा रहे हैं।

बृहस्पतिवार (फरवरी 11, 2021) को इस वीडियो के वायरल होने के बाद इस पर विवाद गहराता जा रहा है। बताया जा रहा है कि इस वीडियो के सामने आने के बाद शहर काजी भी इस हरक़त से बहुत नाराज हैं।

रिपोर्ट्स के अनुसार, वीडियो में बार डांसर के साथ नजर आ रहे सदर अरब अली पटेल ने कहा कि ये दो साल पुराना वीडियो उनके भांजे की शादी समारोह का है और अब ये वीडियो सिर्फ उन्हें बदनाम करने के लिए शेयर किया जा रहा है।

इस वीडियो में सूट-बूट में नजर आ रहे खजराना के नाहरशाहवली दरगाह के सदर, अरब अली पटेल पहले बार डांसर को गले लगाया और बाद में उसकी कमर में हाथ डालकर नाचते नजर आ रहे हैं। अरब अली पटेल कॉन्ग्रेस नेता अंसार पटेल के भाई बताए जा रह हैं। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अंसार पटेल ने ही कॉन्ग्रेस के राज में विधायक सज्जन वर्मा के जरिए अरब अली को दरगाह का सदर नियुक्त करवाया था।

बताया जा रहा है कि शहरकाजी डॉ इशरत अली ने इस वीडियो की प्रमाणिकता पर सवाल उठाते हुए कहा है कि किसी भी धार्मिक स्थल पर पर अच्छी मानसिकता के लोग ही होने चाहिए।

इशरत अली ने कहा कि ऐसी प्रकृति के लोगों को किसी भी धार्मिक दरगाह का सदर बनने की अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि पता नहीं कैसे ऐसे लोगों को ऐसी गरिमामयी जिम्मेदारियाँ मिल जाती हैं। उन्होंने कहा कि वो अरब अली को पद से हटाने के सम्बन्ध में कलेक्टर मनीष सिंह से भी बात करेंगे।

दरअसल, प्राचीन नाहरशाह वली की दरगाह पर हर साल श्रद्धालु जाकर चादर चढ़ाते हैं। इस वीडियो पर जिला हज कमेटी के पूर्व अध्यक्ष फारुक राइन ने भी आपत्ति जताई और कहा कि इस घटना के बाद वक्फ बोर्ड को सदर को बर्खास्त करने के लिए पत्र लिखेंगे। वीडियो को आप इस यूट्यूब लिंक पर भी देख सकते हैं –

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति