Monday , May 17 2021

3 साल से IPL नीलामी से बनाई दूरी पर यह कहा जो रूट ने

इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट ने शुक्रवार को कहा कि लगातार तीसरे साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) नीलामी से बाहर रहने का फैसला बेहद मुश्किल था और उन्होंने राष्ट्रीय टीम के व्यस्त कार्यक्रम को देखते हुए यह निर्णय किया।
इंग्लैंड की पहले टेस्ट मैच में 227 रन से जीत में मैच विजयी 218 रन की पारी खेलने वाले रूट ने दूसरे मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘यह बेहद मुश्किल फैसला था। मैं किसी आईपीएल सत्र का हिस्सा बनने के लिये बेताब हूं और उम्मीद है कि फिर मैं कुछ सत्र तक इसका हिस्सा बना रहूंगा। ’’
चार मैचों की श्रृंखला में 1-0 से आगे चल रहा इंग्लैंड लार्ड्स में 18 से 22 जून के बीच होने वाले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने के दावेदारों में शामिल है। इंग्लैंड जानता है कि फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ने के लिये उसे दो और मैच जीतने होंगे।
इंग्लैंड की टीम इस साल काफी व्यस्त रहेगी। उसे अपनी धरती पर न्यूजीलैंड से दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलनी है। उसे एशेज श्रृंखला के आस्ट्रेलिया का दौरा करना है लेकिन इससे पहले अगस्त से पांच टेस्ट मैचों के लिये भारत की मेजबानी करनी है।
रूट ने कहा, ‘‘इस साल हमें जितना टेस्ट क्रिकेट खेलना है उसे देखकर मुझे लगा कि यह (आईपीएल में खेलने का) सही समय है। मुझे नहीं लगता कि इससे इंग्लैंड की क्रिकेट को फायदा होगा। यह बेहद मुश्किल फैसला था। उम्मीद है कि अगले साल आईपीएल का हिस्सा बनने या कम से कम नीलामी में शामिल होने का मौका मिलेगा। ’’
रूट ने दूसरे टेस्ट मैच के बारे में कहा कि पहला मैच जीतने के बावजूद वह जानते हैं कि उनकी टीम को किस तरह की चुनौतियों का सामना करना होगा।
उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर चुनौती कड़ी होगी लेकिन यह उतनी कड़ी नहीं होगी जितनी 1-0 से पिछड़ने पर होती। हम वास्तव में अच्छी स्थिति में है। हमने शानदार क्रिकेट खेली और आत्मविश्वास के साथ मैदान पर उतरेंगे। लेकिन हम इसे खुद पर हावी नहीं होने देंगे। ’’
रूट ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हम समझ रहे हैं कि इन परिस्थितियों में जीतने के लिये कितनी कड़ी मेहनत की जरूरत है। इसलिए हम जानते हैं कि इस चुनौती से पार पाने के लिये क्या करना है। हम इसको लेकर उत्साहित हैं। ’’
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भारत की तरफ से दूसरी पारी में सर्वाधिक 72 रन बनाये। इंग्लैंड ने उनके लिये योजना तैयार की है लेकिन रूट ने कहा कि वह श्रृंखला में किसी समय बड़ा स्कोर जरूर बनाएंगे।
रूट ने कहा, ‘‘पहले टेस्ट की पहली पारी में बेसी (डॉम बेस) ने बेहतरीन गेंद पर उन्हें आउट किया। हमें अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करनी होगी और उन पर दबाव बनाना होगा। हम जानते हैं कि वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक है और वह इस सप्ताह बड़ी पारी खेलने के लिये बेताब होगा। ’’
इंग्लैंड को तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की कमी खलेगी और ऐसे में बेन स्टोक्स की एक गेंदबाज के रूप में भूमिका बढ़ जाती है।रूट ने कहा, ‘‘हां वह (स्टोक्स) जिम्मेदारी संभाल सकता है। पिछले मैच में कुछ अवसरों पर वह असहज नजर आया। वह जितनी अधिक गेंदबाजी करेगा उतना सहज होता जाएगा।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति