Tuesday , March 2 2021

रिंकू शर्मा के परिजनों के लिए लोगों ने जुटाए ₹40 लाख: न्याय के लिए VHP का देशव्यापी अभियान, 2500 जगहों पर दी जाएगी श्रद्धांजलि

भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली के मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा की हत्या के बाद पीड़ित परिजनों को आर्थिक सहायता देने के लिए ऑनलाइन अभियान शुरू किया है। इसके जरिए खबर लिखे जाने तक 40 लाख रुपए जुटाए गए थे। क्राउडकैश नामक वेबसाइट और फिल्म निर्माता मनीष मुंद्रा द्वारा दी गई 5 लाख की रकम को मिला कर इतनी धनराशि आई है। इस रकम को पीड़ित परिवार के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।

मनीष मुंद्रा ने यहाँ तक वादा किया है कि अगर जनता कुल मिला कर 90 लाख रुपए जुटा देती है तो फिर वो इसमें 10 लाख जोड़ कर इसे 1 करोड़ रुपए कर देंगे। कपिल मिश्रा ने भी इसके लिए 1 करोड़ की धनराशि जुटाने का लक्ष्य रखा है। कपिल मिश्रा ने संकल्प जताया कि हम न तो परिवार को अकेला पड़ने देंगे और न ही कमजोर। उन्होंने ये भी कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मदद तो दूर, अब तक संवेदना के एक शब्द तक नहीं कहे हैं।

दिल्ली के पूर्व मंत्री मिश्रा ने ऐलान किया कि वे सोमवार (फरवरी 14, 2021) को पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे। उन्होंने कहा कि रिंकू शर्मा अपने घर में अकेला कमाने वाले थे, जिन्होंने हमारे लिए अपने जीवन को बलिदान कर दिया। फ़िलहाल हैदराबाद में जनसम्पर्क कर रहे कपिल मिश्रा दिल्ली लौटने के बाद पीड़ित परिवार से मिलेंगे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर उनका दर्द जाना था।

उधर विश्व हिंदू परिषद ने ऐलान किया है कि रामभक्त रिंकू शर्मा को बजरंग दल के कार्यकर्ता रविवार (फरवरी 14, 2021) को देशव्यापी श्रद्धांजलि देंगे। बजरंग दल के राष्ट्रीय संयोजक सोहन सिंह सोलंकी ने बताया कि जिला केंद्रों सहित लगभग 2500 स्थान पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भी दिए जाएँगे। VHP न्याय के लिए पूरे देश में अभियान चलाएगी।

विहिप के केन्द्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेन्द्र जैन ने परिजनों से मिलने के बाद कहा कि पिछले कुछ समय से मुस्लिम समाज में आक्रामकता बढ़ रही है। उन्होंने कहा, “बात-बात पर हमले भी बढ़ रहे हैं। इस्लामिक जिहादी खुलेआम हिंदुओं की मॉब लिंचिंग कर रहे हैं। इन सबके बावजूद पुलिस-प्रशासन व देश की सेक्युलर बिरादरी मूकदर्शक बनी हुई है। दुर्भाग्य से पुलिस-प्रशासन द्वारा अपनी नाकामी को छुपाने हेतु नई-नई कहानियाँ गढ़ी जा रही हैं। स्थानीय पुलिस ने यदि समय पर कार्यवाही की होती तो रिंकू आज अपने परिजनों के बीच होता।”

मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि हमलावर रिंकू शर्मा को परिवार सहित जिंदा जलाने की फिराक में थे। रिंकू शर्मा की माँ राधा ने भी इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि हमलावरों ने किचन से गैस सिलिंडर निकाल लिया था और उसमें आग लगाने की कोशिश की थी, ताकि पूरे घर को जलाया जा सके और आग में झुलस कर पूरे परिवार की मौत हो जाए। वो गैस सिलिंडर में आग लगाने ही जा रहे थे, तभी रिंकू की माँ ने अपने बेटों के साथ मिल कर किसी तरह आरोपितों से सिलिंडर छीन लिया।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति