Sunday , February 28 2021

ब्रांडिंग के लिए आंटी कमला हैरिस के नाम का इस्तेमाल बंद करें: मीना हैरिस को ह्वाइट हाउस के वकीलों ने चेताया

अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की भतीजी मीना हैरिस हाल के दिनों में भारत विरोधी बयानों के कारण सुर्ख़ियों में रही हैं। ‘लॉस एंजेल्स टाइम्स’ में प्रकाशित खबर की मानें तो ह्वाइट हाउस के अधिवक्ताओं ने अब उनसे कहा है कि वे अपनी कंपनी की ब्रांडिंग के लिए अपनी आंटी के नाम का इस्तेमाल करना बंद करें। मीना हैरिस एक कंपनी चलाती हैं, जो कपड़ों, वीडियोज, डिजाइनर हेडफोन्स और बच्चों की किताबों का कारोबार करती है।

मीना ने ‘एम्बिशयस गर्ल’ नामक एक किताब भी लिखी है। इसके प्रमोशन हाल ही में NBC टुडे और ABC द व्यू नामक शोज में किया गया था। इस किताब के प्रमोशन के लिए वह कई मैगजीन्स के कवर पर भी दिख चुकी हैं। ह्वाइट हाउस के अधिकारियों ने LA टाइम्स से कहा कि कुछ चीजों को वापस पुराने रूप में नहीं लाया जा सकता, लेकिन इस व्यवहार में बदलाव लाने की ज़रूरत है।

मीना हैरिस के कपड़े की कंपनी ‘फेनोमेनल’ ने कमला हैरिस की तस्वीर वाली स्वेटशर्ट्स निकाले थे, जिन पर ‘वाइस प्रेसिडेंट आंटी’ लिखा था। हालाँकि, चुनाव के बाद उन्हें कमला हैरिस के नाम का इस्तेमाल करने से रोक दिया गया। साथ ही हेडफोन्स पर ‘द फर्स्ट बट नॉट दी लास्ट’ लिखा था, जिसमें कमला हैरिस के रूप में अमेरिका को पहली महिला उपराष्ट्रपति मिलने की बात कही गई थी।

खबर में कहा गया है कि चेतावनी देने के बावजूद मीना हैरिस ने शपथग्रहण समारोह में जाने के लिए एक प्राइवेट जेट का इस्तेमाल किया था। इसका खर्च एक कैम्पेन डोनर ने उठाया था। 36 वर्षीय मीना हैरिस हार्वर्ड में प्रशिक्षित वकील हैं, जिन्होंने 4 वर्ष पहले एक कंपनी की शुरुआत की थी। उनके ब्रांड के कपड़े अक्सर सेलेब्रिटी या सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स को पहने देखा गया है।

‘आई एम स्पीकिंग’ लिखे कपड़े अब भी बिक रहे हैं। ये वही पंक्ति है, जिसका इस्तेमाल कमला हैरिस ने तत्कालीन उपराष्ट्रपति माइक पेन्स के साथ बहस के दौरान किया था। उन्होंने एक प्रोडक्शन कंपनी के साथ मिल कमला हैरिस की सफलता पर एक वीडियो भी बनाया। हेडफोन्स पर भी कमला हैरिस द्वारा कहे गए शब्द थे। मीना का दावा है कि वो वैधानिक और नैतिक दायरों में रह कर ही ये सब कर रही हैं। मीना हैरिस पहले Uber में एक बड़े पद पर थीं।

उपराष्ट्रपति की प्रवक्ता सबरीना सिंह ने कहा कि कमला हैरिस और उनका परिवार उच्च-स्तर के नैतिक व्यवहार का प्रदर्शन करेगा। साथ ही उन्होंने ह्वाइट हाउस के नियमों की याद दिलाते हुए कहा कि उपराष्ट्रपति का नाम किसी भी कमर्शियल गतिविधि के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए, जिससे लगे कि वो इस चीज का समर्थन या प्रचार करती हैं। डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ अभियान में बायडेन और हैरिस ने पारिवारिक कारोबारों को लेकर उनकी खूब आलोचना की थी।

बता दें कि मीना हैरिस सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़ भी फैलाती हुई नज़र आई थीं। इसमें दावा किया गया था कि 23 साल की लेबर राइट ‘एक्टिविस्ट’ नवदीप कौर को गिरफ्तार कर पुलिस हिरासत में उन पर अत्याचार किए गए और उनका ‘यौन शोषण’ हुआ। उन्होंने झूठा दावा किया कि भारतीय मीडिया ने उनके खिलाफ हो रहे विरोध-प्रदर्शन का महिमामंडन किया। साथ ही ग्रेटा के टूलकिट का समर्थन किया।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति