Saturday , June 19 2021

‘मायानगरी की राजनीति.. कलियुग में गलत करने वाला ही राजा है’: सुशांत के साथ काम कर चुके अभिनेता की संदिग्ध मौत

2016 में आई बायोपिक फिल्म ‘एम० एस० धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’ में सुशांत सिंह राजपूत के साथ काम कर चुके बॉलीवुड अभिनेता संदीप नाहर ने आत्महत्या कर ली है। उन्होंने एक सुसाइड नोट भी लिखा। पिछले कुछ महीनों में कई बॉलीवुड अभिनेताओं ने आत्महत्या की है, जिसमें अब उनका नाम भी जुड़ गया है। उन्होंने आत्महत्या से पहले एक वीडियो भी अपने फेसबुक अकाउंट से शेयर किया, जिसमें उन्होंने एक नोट लिख रखा था।

ये वीडियो काफी डिस्टर्ब कर देने वाला था। संदीप नाहर ने फेसबुक पर लिखे नोट में न सिर्फ अपने संघर्षों के बारे में बताया बल्कि बॉलीवुड में हावी राजनीति को लेकर भी दुःख जताया। अपने नोट में उन्होंने लिखा था, “2 साल से मेरा जीवन एकदम बदल गया है और मैं ये बातें कभी किसी से शेयर भी नहीं कर सकता। दुनिया को लगता है कि उनका सब कुछ कितना अच्छा रहा है, क्योंकि वो हमारे सोशल मीडिया पोस्ट्स और स्टोरीज देखते हैं।”

उन्होंने आगे लिखा था, “ये सब कुछ झूठ होता है। हो सकता वो किसी के कहने पर ये सब डालता हो। दुनिया को अच्छा दिखाने के लिए और अपनी इमेज अच्छी बताने के लिए डालता हो। लेकिन, ऐसा नहीं है। हमारी बिलकुल नहीं बनती। कंचन 2 सालों से बोलती रहती है कि आत्महत्या कर लूँगी और तुम्हें फँसा दूँगी। देखो, आज ये नोट आ गया है। आज ये नौबत आ गई है कि मुझे ये स्टेप उठाना पड़ रहा है।”

बता दें कि कंचन शर्मा उनकी पत्नी हैं, जिनके बारे में संदीप नाहर ने लिखा है कि वो उनके पास्ट को लेकर हमेशा उनसे लड़ाई करती रहती थीं। उन्होंने लिखा है कि उनकी पत्नी उनकी इज्जत नहीं करती थी, गाली देती थी और परिवार के बारे में भला-बुरा कहती थी। उन्होंने लिखा था कि उनके लिए अब ये सब सुनना बर्दाश्त से बाहर हो गया था। उन्होंने बॉलीवुड को ‘मायानगरी’ बताते हुए लिखा कि यहाँ बहुत राजनीति होती है।

उन्होंने लिखा कि लोग उम्मीद देकर आपका वक़्त बर्बाद कर देते हैं। उन्होंने लिखा, “बाद में आपको प्रोजेक्ट से निकाल दिया जाता है, एग्रीमेंट वगैरह होने के बाद भी। यहाँ लोग बिलकुल भी प्रैक्टिकल नहीं हैं। कोई इमोशन नहीं है। दिखावे की झूठी ज़िंदगी जीते हैं। वो वक़्त ही अच्छा था जब कच्चे घर होते थे और लोगों के बीच प्यार था। सब अपने-अपने में लगे रहते थे। आजकल सब अपने होकर भी पराये हैं।”

संदीप नाहर ने अपने दुःखों के बारे में बताते हुए लिखा था, “भीड़ में अकेला जीना भी एक कला है। ये कलियुग का दौर है। जो गलत कर रहे हैं, वो राजा हैं। वो खुश हैं। ईमानदारी से अच्छा व्यवहार करने से यहाँ लोग आपको छोटा समझते हैं। ऐटिटूड दिखाने वाले को सलाम करते हैं। अलग मामला है। बस अब मेरा दिल नहीं करता जीने का।” गोरेगाँव क्षेत्र में संदीप नहर कथित आत्महत्या को लेकर मुंबई पुलिस ने FIR दर्ज कर के जाँच की बात कही है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

अपनी सुसाइड नोट में संदीप ने लिखा था, “ये स्वर्ग और नरक.. शादी के बाद ही वो महसूस होता है। लेकिन, मैं पिछले 2 वर्षों से नरक भोग रहा हूँ। अनजाने में किसी का दिल दुखाया तो हाथ जोड़ कर माफ़ी। खुश रहिए और दूसरों को भी खुश रखिए। जैसी ज़िंदगी आप खुद जीना चाहते हैं, वैसी दूसरों को भी दीजिए। किसी को जबरन कैद में रख कर प्यार हासिल नहीं किया जा सकता। गलत शादी होने से काफी लोगों को मरते देखा है मैंने।”

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति