Saturday , February 27 2021

अब्बा सरकारी मास्टर, खुद अलीगढ़ कॉलेज से पढ़ाई और धंधा… आतंकियों को पिस्टल की सप्लाई: बिहार से धराया जावेद

सारण (पटना)। बिहार के सारण से एक आतंकी कनेक्शन का खुलासा हुआ है। पुलिस ने मढ़ौरा थाना इलाके में देव बहुआरा निवासी रिटायर शिक्षक महफूज अंसारी के 25 वर्षीय पुत्र जावेद को गिरफ्तार किया है। पुलिस को जावेद के आतंकियों के साथ संबंध होने की सूचना मिली है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जावेद ने आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए कश्मीर के मुश्ताक नाम के एक युवक को 7 पिस्टल मुहैया कराई थी, जिसे पाक के आतंकवादियों तक पहुँचाया गया। बिहार और जम्मू-कश्मीर की एसटीएफ की संयुक्त ने जॉइंट आपरेशन के तहत सोमवार (15 जनवरी, 2021) को उसके पैतृक घर से उसे धर दबोचा है।

जानकारी के अनुसार, जावेद की दोस्ती अलीगढ़ के एक कॉलेज में आतंकी कनेक्शन वाले कश्मीर के मुश्ताक नामक एक युवक से हुई। जावेद पर सारण से करीब 7 पिस्टल मुश्ताक को मुहैया कराने का भी आरोप है।

मुश्ताक ने बाद में पाकिस्तान के इशारे पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने वाले हिदायतुल्लाह को ये पिस्तौलें सौंप दीं। इस बात की भनक लगते ही पुलिस की स्पेशल टीम ने जावेद को उसके घर से दबोच लिया।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने रविवार को आंतकी गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया था कि घाटी में हथियार की सप्लाई बिहार से की जा रही है। जिसके लिए पंजाब में पढ़ने वाले कुछ कश्मीरी छात्रों का इस्तेमाल किया जा रहा था, ताकि बिना किसी परेशानी के अवैध हथियारों को घाटी तक लाया जा सके।

हाल ही में स्वयंभू प्रमुख कमांडर हिदायतुल्ला मलिक और जहूर अहमद राथर की गिरफ्तारी के बाद इस पूरे लिंक का पर्दाफाश हुआ था। जिसके बाद से पुलिस और सुरक्षा एजेंसियाँ अलर्ट पर हैं।

ग्रामीणों का कहना है लगभग 40-50 जवान इस पूरे ऑपरेशन में शामिल थे। जिन्होंने पूरे गाँव की घेराबंदी करते हुए उसे गिरफ्तार किया। इस दौरान जावेद ने भागने का भी प्रयास किया था।

स्थानीय मुखिया ने बताया कि जावेद लगभग एक महीने पहले ही अपने घर लौटा था। वह कहीं बाहर रह कर पढ़ाई पूरी कर रहा था और बहुत कम ही घर आता था। जावेद कुल 5 भाई और एक बहन है। पड़ोस के एक युवक से जावेद की सारी जानकारी लेने के बाद पुलिस ने उसके घर पर धावा बोला था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति