Tuesday , March 2 2021

रिंकू शर्मा के परिवार के पास पहुँचे ₹57 लाख, 26 फरवरी तक ट्रांसफर हो जाएँगे ₹1 करोड़: BJP नेता कपिल मिश्रा

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रिंकू शर्मा की हत्या ने पिछले दिनों पूरे देश को झकझोर दिया। हर ओर से इस घटना के बाद इंसाफ की माँग उठी। ऐसे में कुछ लोग वह भी रहे जिन्होंने इंसाफ की माँग उठाने के साथ साथ रिंकू शर्मा के परिवार की आर्थिक सहायता करने का बीड़ा उठाया। भाजपा नेता कपिल मिश्रा उन्हीं लोगों में शामिल थे, जो अब तक परिवार के पास 50 लाख रुपए भिजवा चुके हैं।

आज भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने इस संबंध में जानकारी दी कि रिंकू शर्मा की माँ के अकॉउंट में ₹50 लाख उनकी ओर से जा चुके हैं। इसके अलावा मनीष मुंद्रा ने भी रिंकू के पिताजी के अकॉउंट में 7 लाख 50 हजार रुपए भेजे हैं। यानी कुल सहायता 57 लाख 50 रुपए की हो चुकी है। कपिल मिश्रा का दावा है कि 26 फरवरी तक 1 करोड़ रुपए परिवार के खाते में ट्रांसफर हो जाएँगे।

गौरतलब है कि इससे पहले भाजपा नेता पीड़ित परिवार से मिलने उनके घर गए थे। वहाँ उन्होंने इस हत्या को आतंकी घटना करार दिया था। साथ ही कहा था कि कुछ राम, मन्दिर, जय श्री राम के खिलाफ नफरत भर रहे हैं। हम मिलकर परिवार को एक करोड़ रुपए की सहायता दे रहे हैं।

कपिल मिश्रा ने इस दौरान हत्या को जिहाद कहते हुए बयान दिया था कि निशाना लगाकर बेटे को मारा गया है, उसे चुन कर मारा गया है जो सबसे ज्यादा जोश और उत्साह के साथ धर्म का काम करता था, उसको उसके घर में घुस कर मारा गया। फिर चैन नहीं पड़ा तो अस्पाल में जाकर दोबारा मारा गया।

उनके अनुसार इसको कोई साधारण आपराधिक घटना नहीं माना जा सकता। इसको वैसे ही समझना पड़ेगा जैसे किसी आतंकी घटना को समझा जाता है। मारने वालों को तो फाँसी होनी ही चाहिए और मारने वालों के पीछे वो कौन लोग थे जिन्होंने उनके दिमाग में ऐसा जहर भरा, जिन्होंने उनके दिमाग में ऐसी नफरत भरी कि कोई तो चंदा माँगने आए राम मंदिर का तो उसको भी निशाना बनाकर मारा जाए, उस मास्टरमाइंड को भी पकड़ा जाना जरूरी है।

उन्होंने माँग की थी कि इस घटना की जाँच सामान्य आपराधिक घटना की तरह न हो, बल्कि आतंकी हमले की तरह हो। इसी दौरान उन्होंने ये भी बताया था कि वह लोग परिवार को 1 करोड़ रुपया आर्थिक मदद के तौर पर दे रहे हैं और उसे परिवार के बैंक खाते में ट्रांस्फर करने की प्रक्रिया शुरू कर रहे हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति