Saturday , May 8 2021

केजरीवाल की रैली में ₹500 देने का वादा कर जुटाई भीड़, रूपए ना मिलने पर मजदूरों का हंगामा

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की रैली में आए लोगों ने दावा किया है कि वो मजदूर हैं और उन्हें 500-500 रुपए देने का वादा कर के यहाँ बुलाया गया था। उनका कहना है कि अब तक मजदूरों को पैसों का भुगतान भी आम आदमी पार्टी (AAP) नेताओं द्वारा नहीं किया गया है। एक वीडियो सामने आया है, जिसमें ये मजदूर रुपए देने का वादा करने वाले AAP नेताओं को ढूँढ रहे है और एक नेता उन्हें किसी दूसरे के पास जाने की सलाह दे रहा है।

‘Newsroom Post’ के इस वीडियो में देखा जा सकता है कि रैली में आने के लिए तय किए गए रुपए न मिलने के कारण मजदूर भड़के हुए हैं और पैसों की माँग कर रहे हैं। उनमें महिलाएँ भी शामिल हैं, जिन्हें AAP के झंडे लेकर बुलाया गया था। महिला ने कहा कि गरीबों से वादा करने के बाद ये नेता उन्हें रुपए नहीं दे रहे हैं। इसी तरह से कई अन्य मजदूरों ने भी रैली के बाद अपना विरोध दर्ज किया।

बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के शालीमार बाग़ में हाल ही में रोड शो किया, जिसमें किसानों के प्रति एकता दिखाने की कोशिश की गई। हालाँकि, इस रोड शो में कोरोना के नियमों की भी जम कर धज्जियाँ उड़ाई गईं और सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर की बात, किसी के चेहरे पर मास्क तक नहीं दिखा। सम्बोधन में केजरीवाल ने कहा भी कि दिल्ली में कोरोना ख़त्म हो गया है और दिल्ली वालों ने कोरोना को हरा दिया है।

वहीं अब AAP के मुखिया ‘किसान आंदोलन’ की आड़ में उत्तर प्रदेश में भी दस्तक देने वाले हैं। राज्य के पश्चिमी हिस्से में स्थित मेरठ में फरवरी के अंतिम दिन ‘किसान महापंचायत’ होनी है, जहाँ दिल्ली के सीएम जनसभा को सम्बोधित करेंगे। इसके लिए दिल्ली पुलिस की टीम ने वहाँ जाकर सुरक्षा व्यवस्था का भी जायजा लिया है। तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ होने वाली इस रैली को सफल बनाने के लिए केजरीवाल ने किसान नेताओं के साथ दिल्ली में बैठक भी की।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति