Sunday , April 18 2021

ममता बनर्जी को बहुत बड़ा झटका, चुनाव से 20 दिन पहले इन 5 विधायकों ने छोड़ा साथ, बीजेपी के हो गए

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले ही तृणमूल कांग्रेस को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे हैं । सोमवार को एक बार फिर सत्ताधारी पार्टी के पांच विधायक भाजपा में शामिल हो गए । बीजेपी में शामिल होने वाले सांसदों में सोनाली गुहा, दीपेंदु बिस्वास, रवींद्रनाथ भट्टाचार्य, जट्टू लाहिड़ी और हबीबपुर सरला मुर्मू शामिल हैं। ये सभी सुवेंदु अधिकारी की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए ।

शीर्ष नेता रहे मौजूद
टीएमसी के ये पांचों विधायक पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष समेत बीजेपी के शीर्ष नेता सुवेंदु अधकारी और मुकुल रॉय की उपस्थिति में शामिल हुए। आपको बता दें पिछले हफ्ते ही तृणमूल कांग्रेस के नेता और पूर्व केंद्रीय रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने भी बीजेपी ज्‍वॉइन कर ली है । त्रिवेदी भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा और केंद्रीय मंत्रियों पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुए।

27 मार्च से होने हैं चुनाव
आपको बता दें पश्चिम बंगाल की 291 सदस्यीय विधानसभा सीटों पर 27 मार्च से चुनाव होने हैं, राज्‍य में 8 चरणों में मतदान होगा । अंतिम तारीख 29 अप्रैल है । जिसके बाद 2 मई को चुनाव परिणाम सामने होंगे । आपको बता दें ममता बनर्जी को पिछले कुछ महीनों में झटके पर झटके लग रहे हैं, उनके कई दिग्‍गज नेता उन्‍हें छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए हैं । पिछले साल दिसंबर में ही पश्चिम बंगाल के राजनीतिक दिग्गज सुवेंदु अधिकारी, जो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पूर्व सहयोगी थे उन्‍होंने टीएमसी को छोड़ दिया और मिदनापुर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली में भाजपा में शामिल हो गए।

शाह का दावा, बनर्जी को अकेला छोड़ दिया जाएगा
पश्चिम बंगाल में चुनावी बिसात बिछाने वाले बीजेपी के दिग्‍गज और देश के गृह मंत्री अमित शाह ने कुछ समय पहले ही ये दावा किया था कि पश्चिम Mamtaबंगाल चुनाव शुरू होने तक ममता बनर्जी को अकेला छोड़ दिया जाएगा। जिसे लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कहा था कि भाजपा कुछ भ्रष्ट नेताओं को खरीद सकती है, लेकिन राज्य की सत्ताधारी पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को नहीं। एक रैली में ममता बनर्जी ने दल-बदल कर रहे उनके नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा था कि तृणमूल कांग्रेस में भ्रष्ट लोगों के लिए कोई जगह नहीं है और जो लोग सत्तारूढ़ पार्टी छोड़ने की इच्छा रखते हैं, उन्हें तुरंत ऐसा करना चाहिए।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति