Sunday , April 18 2021

उज्जैन में तेजाब डाल कर हनुमान जी की मूर्ति को जलाया: हिन्दू संगठनों के लोग कार्रवाई के लिए सड़क पर, 144 लागू

उज्जैन। मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले के बड़नगर शहर में डायवर्शन रोड पर पेट्रोल पंप के पास बने हनुमान मंदिर में असामाजिक तत्वों ने छेड़छाड़ कर बजरंग बली की मूर्ति को जला कर काला कर दिया। मूर्ति की हालत देख मालूम होता है कि किसी ज्वलनशील पदार्थ को मूर्ति पर डाला गया।

मामले की जानकारी होते ही हिंदू संगठन के लोग आक्रोशित हो गए और सड़कों पर आकर प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान चक्का जाम भी हुआ। स्थिति इतनी तनावपूर्ण हो गई कि पुलिस को बैरिकेडिंग करनी पड़ी। वहीं हालातों के मद्देनजर बाजार भी बंद करा दिए गए हैं।


मंदिर में क्षतिग्रस्त हुई हनुमान जी की मूर्ति

रिपोर्ट्स में पथराव और तोड़फोड़ की बात भी कही जा रही है। हालाँकि स्थिति अभी नियंत्रण में हैं। शहर में धारा 144 लगाई गई है। पुलिस ने आश्वासन दिया है कि जल्द से जल्द मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने वाला पकड़ा जाएगा।

पुलिस की एक विशेष टीम आरोपितों को पकड़ने में लग गई है। मूर्ति देख पुलिस ने आशंका जताई है कि मूर्ति पर तेजाब डाला गया या फिर हो सकता उस पर आग लगाई गई हो। फॉरेंसिक दल इसकी जाँच कर रहा है।

जानकारी के अनुसार, स्थानीयों के संज्ञान में ये घटना मंगलवार को आई, वो भी तब जब सुबह श्रद्धालु हनुमान जी के दर्शन को पहुँचे, वहाँ लोगों ने देखा कि वहाँ मूर्ति काली हुई पड़ी थी।

थोड़ी देर में हर जगह इसका शोर हो गया। हिंदूवादी संगठन विरोध करने सड़कों पर उतर आए। प्रमुख मार्गों पर चक्का जाम कर दिया गया। लोगों ने घटना से नाराज होकर पुलिस और प्रशासन के ख़िलाफ़ नारेबाजी की। कई जगह पथराव भी हुआ। भारी भीड़ में घटना के ख़िलाफ़ जुलूस निकाले गए।

स्वस्तिक पीठ के संत डॉ अवधेश पुरी ने इस घटना को बेहद शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी 5 मार्च को मंदिर को नुकसान पहुँचाया गया था। यदि उसी समय कार्रवाई हो जाती तो यह दूसरी बार घटना नहीं होती। दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाए।

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के डॉ. नरेंद्र सिंह राजावत ने घटना की निंदा की। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं से हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुँची है। उन्होंने चेतावनी भरे अंदाज में कहा कि प्रशासन जितनी जल्दी हो सके, उतनी जल्दी सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों को पकड़े। स्थानीय लोगों ने मोटरसाइकिल रैली निकाल कर असामाजिक तत्वों की गिरफ्तारी की माँग भी की।

बता दें कि हिंदूवादी संगठनों के लोगों ने पुलिस-प्रशासन पर सही से जाँच न करने का आरोप लगाया है। जिसके चलते एसपी सत्येंद्र शुक्ला ने टीआइ सतनाम सिंह को लाइन अटैच कर दिया और शहर में धारा 144 लगा दी गई है। सुरक्षा के लिहाज से बड़ी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया है। पुलिस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जाँच शुरू कर दी है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति