Sunday , April 18 2021

नंदीग्राम में चोट के बाद ममता बनर्जी कोलकाता में भर्ती, 6 डॉक्टरों की टीम इलाज में लगी

नंदीग्राम/कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार शुरू हो चुका है और पहले दौर के चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया जारी है. इस बीच तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज बुधवार को नंदीग्राम में अपने चुनावी अभियान के दौरान शाम को हादसे का शिकार हो गईं और उनके पैरों में चोट लग गई. हालांकि ममता की ओर से आरोप लगाया गया कि उन पर हमला किया गया है तो वहीं बीजेपी ने मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है. जबकि चुनाव आयोग ने घटना पर रिपोर्ट मांगी है.

ममता के पैर की चोट गंभीर बताई जा रही है. उनके सभी कार्यक्रम फिलहाल रद्द कर दिए गए हैं. ममता को अब कोलकाता को लाया गया. पहले कहा जा रहा था कि वह अभी कोलकाता नहीं आएंगी. लेकिन अब उन्हें सड़क मार्ग के जरिए ग्रीन कॉरिडोर बनाकर रात पौने 9 बजे के करीब कोलकाता लाया गया है. कोलकाता के 2 अस्पताल को बेले व्यू हॉस्पिटल और एसएसकेएम हॉस्पिटल को तैयार रहने को कहा गया था और उन्हें एसएसकेएम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. ममता को स्ट्रेचर के जरिए हॉस्पिटल के अंदर ले जाया गया है.

एसएसकेएम हॉस्पिटल के अंदर 6 डॉक्टरों का बोर्ड उनका इलाज कर रहा है. इस बीच राज्यपाल जगदीप धनखड़ भी ममता का हाल-चाल जानने के लिए एसएसकेएम हॉस्पिटल गए. हॉस्पिटल के बाहर टीएमसी नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है.

नंदीग्राम में मुझ पर हुआ हमलाः ममता बनर्जी

स्थानीय डॉक्टर ममता के पैर में लगे चोट की जांच कर रहे हैं. डॉक्टरों की ओर से रिपोर्ट मिलने के बाद ही उनके आगे की स्थिति साफ हो सकेगी. ममता के पैरों में सूजन हैं और उन्हें लगातार दर्द हो रहा है.

हादसे के बाद दर्द से कराहतीं ममता बनर्जी
हादसे के बाद दर्द से कराहतीं ममता बनर्जी

हालांकि ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में खुद पर हमले का आरोप लगाया है. ममता ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘नंदीग्राम में मुझ पर हमला किया गया रहै. मेरे पैर में चोट लगी है. मेरे पैरों में सूजन है. मेरे पैर को गाड़ी से कुचलने की कोशिश की गई.’ उनको यह भी कहते सुना गया है कि अब वह कोलकाता जा रही हैं. चुनाव आयोग ने इस घटना पर रिपोर्ट मांगी है.

टीएमसी प्रमुख की ओर से यह भी कहा गया कि इस मामले के खिलाफ वह चुनाव आयोग से शिकायत करेंगी. ममता के चोटिल होने से उनके चुनावी अभियान पर असर पड़ा है और कई कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है. कहा जा रहा है कि कार का दरवाजा खोलते हुए कुछ लोगों ने ममता के साथ बदसलूकी की.

हादसे की वजह साफ नहीं हो सकी है. इसके पीछे कौन लोग थे अभी जानकारी नहीं मिली है. लेकिन जांच जारी है.

सीबीआई से जांच कराए आयोगः बीजेपी

ममता के चोटिल होने को लेकर बीजेपी ने पुलिस और प्रशासन पर हमला बोला. बीजेपी ने कहा कि पुलिस-प्रशासन क्या कर रहा था. सीएम की सुरक्षा में तैनात लोग क्या कर रहे थे.

ममता पर हुए हमले को बीजेपी नेता और पार्टी के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि यह सब कुछ ममता की सहानुभूति पाने की कोशिश है क्योंकि उनकी बंगाल से जमीन खिसक गई है. वह नाटक कर रही हैं. उन पर हमले की बात कोई सोच नहीं सकता. 200-300 पुलिसकर्मियों के होते हुए उन पर हमला कैसे हो गया.

विजयवर्गीय ने यह भी कहा कि अगर ममता पर हमला हुआ है तो चुनाव आयोग इस प्रकरण पर सीबीआई से जांच कराए.

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज बुधवार को नंदीग्राम से अपना नामांकन दाखिल कर दिया. नामांकन से पहले ममता शिव मंदिर में पूजा करने के लिए पहुंचीं. फिर उन्होंने हल्दिया में पदयात्रा निकालकर पर्चा भरा.

नामांकन दाखिल करने के बाद ममता बनर्जी ने सभी को शुक्रिया कहा. इस दौरान उन्होंने कहा कि कल गुरुवार को उनकी पार्टी मैनिफेस्टो जारी कर रही है और हम जीतेंगे.

इससे पहले बीजेपी ने आज बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नामांकन दाखिल करने के दौरान पुलिसकर्मियों के सादे ड्रेस में होने को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत की है. आयोग को दिए अपनी शिकायत में बीजेपी ने यह भी आरोप लगाया कि पुलिस राज्य में टीएमसी कैडर की तरह काम कर रही है.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति