Monday , April 19 2021

रन आउट से बचने के लिए बल्लेबाज़ ने चली थी ‘चाल’, अंपायर ने फिर भी दे दिया आउट

वेस्टइंडीज और श्रीलंका के बीच पहला वनडे मुकाबला नॉर्थ साउंड में खेला गया । जहां शाई होप के शानदार शतक की बदौलत वेस्टइंडीज ने श्रीलंका को 8 विकेट से हरा दिया । मैच में वेस्टइंडीज ने तीन ओवर पहले ही मुकाबले को जीत लिया । मैच के दौरान श्रीलंकाई बल्लेबाज अजीबोगरीब तरह से आउट हो गए । उन्‍हें क्षेत्र में बाधा डालने के कारण आउट करार दिया गया । कायरन पोलार्ड की अपील पर थर्ड अंपायर ने धनुष्का को आउट करार दिया । सोशल मीडिया पर ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

फील्‍ड पर कुछ ऐसा हुआ

श्रीलंकन खिलाडि़यों ने 21 ओवर में एक विकेट खोकर 112 रन बना चुके थे, इस दौरान क्रीज पर धनुष्का गुनाथिलाका 55 रन बनाकर टिके हुए थे । तभी  कायरन पोलार्ड की गेंद पर उन्होंने शॉट खेला, लेकिन बॉल वहीं रह गई । जिसके बाद उन्होंने रन लेने की कोशिश की और गेंद के पास ही खड़े हो गए । पोलार्ड गेंद पकड़ना चाहते थे, लेकिन उन्होंने पैर से गेंद को पीछे की तरफ धकेल दिया। जिसके बाद पोलार्ड ने अपील की और थर्ड अंपायर ने धनुष्का को आउट करार दे दिया।

अंपायर के फैसले को सही बताया गया

वहीं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिन गेंदबाज ब्रैड हॉग का भी इस पर रिएक्शन आया है । उन्‍होंने भी अंपायर के फैसले को सही ठहराया । लिखा-  ‘साफ-साफ धनुष्का गुनाथिलाका ने क्षेत्र में बाधा डालने की कोशिश की. जिस वक्त गेंद के पास दो खिलाड़ी मौजूद थे, उस वक्त वो क्रीज में जाने की बिल्कुल कोशिश नहीं कर रहे थे. पोलार्ड के पास पूरा अधिकार है अपील करने का. अंपायर ने सही फैसला सुनाया.’

ऐसा रहा मैच

बात करें मैच की तो, श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 232 रन बनाए। धनुष्का गुनाथिलाका ने 55, दिमुथ करुणारत्ने 52 और एशन बंडारा ने 50 रन की पारी खेली । इनके अलावा कोई बल्लेबाज नहीं टिक सका । जैसन होल्डर और जैसन महमूद को 2-2 विकेट मिले । वहीं वेस्टइंडीज ने भी बल्लेबाजी में जलवा दिखाय । ओपनिंग के लिए आए एविन लेविस और शाई होप ने श्रीलंका की सारी उम्मीदों पर पानी फेर दिया । एविन 65 रन बनाकर आउट हुए, लेकिन शाई होप टिके रहे और 110 रन की शानदार पारी खेली । वेस्टइंडीज ने 47 ओवर में ही मुकाबले को जीत लिया।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति