Sunday , April 18 2021

माँ के साथ मंदिर गई 4 साल की मासूम से 40 वर्षीय इरशाद ने किया दुष्कर्म का प्रयास, यूपी पुलिस ने भेजा जेल

मैनपुरी/लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मैनपुरी के करहल थाना क्षेत्र के अंतर्गत गुरुवार को माँ के साथ मंदिर गई चार वर्षीय मासूम के साथ 40 वर्षीय युवक इरशाद ने दरिंदगी की हद पार करने की कोशिश की। लेकिन मासूम के चीखते ही आसपास के लोगों की नजर उस दरिंदे पर पड़ गई। कहा जा रहा है कि आरोपित को तत्काल भीड़ ने पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई कर दी। बात फैलते ही मासूम के परिजन तथा बस्ती के दूसरे लोग भी मौके पर पहुँच गए थे।

रिपोर्ट के अनुसार, तत्काल सूचना मिलने के बाद प्रभारी निरीक्षक शिवकुमार चौहान भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुँचे। पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए लोगों की पिटाई से घायल हुए युवक को अपने कब्जे में लिया और उसे थाने भिजवाया। और बच्ची को मेडिकल के लिए अस्पताल भिजवाया गया। पिता की शिकायत पर आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तत्काल कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पुलिस ने इस घटना में आरोपित इरशाद को पकड़कर न्यायालय में पेश किया जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, करहल थाना क्षेत्र की एक बस्ती निवासी एक महिला गुरुवार की सुबह महाशिवरात्रि पर पूजा करने के लिए शिव मंदिर गई थी। उनके साथ उनकी 4 साल की पुत्री भी थी। माँ जब मंदिर में चली गई तो बच्ची बाहर खेलने लगी। आरोप है तभी दरिंदा इरशाद वहाँ आया और बच्ची को बहला कर मंदिर के पीछे ले गया। वहाँ उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया।

वहीं कुछ रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि जब चार वर्षीय बालिका अपनी माँ के साथ शिवरात्रि पर शिव मंदिर में दर्शन करने गई थी। तभी मासूम बच्ची भीड़ में किसी तरह माँ से बिछड़ गई और रोने लगी। इसी बीच रो रही बालिका पर कस्बा करहल के मोहल्ला मनिहारन निवासी इरशाद पुत्र महबूब की नजर पड़ी। मौका पाकर वह बालिका को मंदिर के पीछे ले गया और उसके साथ हैवानियत करने की कोशिश करने लगा।

बालिका के चीखने पर लोग दौड़ पड़े और आरोपित इरशाद को धर लिया। लोगों ने दरिंदे इरशाद की पहले जमकर धुनाई की। फिर यूपी पुलिस के हवाले कर दिया। पिता की तहरीर पर आरोपित इरशाद के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 ए, बी, पॉस्को एक्ट तथा दलित उत्पीड़न की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति