Monday , April 19 2021

बिहार, पश्चिम बंगाल और असम में भूकंप के तगड़े झटके, रिक्‍टर स्‍केल पर 5.4 मापी गई तीव्रता

गंगटोक में भूकंप के बाद घरों से बाहर आए लोग.नई दिल्‍ली/पटना/गुवाहाटी/कोलकाता। असम, बिहार और पश्चिम बंगाल में भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप के तगड़ झटकों से लोग डरकर घरों से बाहर निकल आए। नेशनल सेंटर फॉर सिस्‍मोलॉजी के मुताबिक सिक्किम नेपाल सीमा पर भी भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए। वहीं मौसम विभाग के अनुसार भूकंप का केंद्र सिक्किम-नेपाल बॉर्डर बताया जा रहा है। रात आठ बजकर 49 मिनट पर आए भूकंप की तीव्रता रिक्‍टर स्‍केल पर 5.4 मापी गई।

प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक बिहार में पटना, पूर्णिया, भागलपुर अररिया और किशनगंज समेत कई शहरों में ये झटके महसूस किए गए हैं। करीब 8.49 मिनट पर आए भूकंप के तगड़े झटकों के चलते लोग अपने-अपने घरों से बाहर आ गए। फि‍लहाल इस भूकंप से कहीं भी जान-माल के नुकसान की जानकारी नहीं है। मालूम हो कि बीते 15 फरवरी को ही बिहार में भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए थे। 3.5 की तीव्रता के आए इस भूकंप का केंद्र नालंदा से 20 किलोमीटर उत्तर-पश्चिमी में मौजूद था।

मालूम हो कि भूकंप के खतरे के लिहाज से देश को चार हिस्सों में बांटा गया है। इनमें जोन-2, जोन-3, जोन-4 तथा जोन 5 शामिल है। भूकंप के लिहाज से सबसे कम खतरे वाला हिस्‍सा जोन-2 माना जाता है जबकि सबसे ज्यादा खतरे वाले इलाके जोन-5 के माने जाते हैं। देश में नार्थ-ईस्ट के सभी राज्य, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्से जोन-5 में जबकि उत्तराखंड के कम ऊंचाई वाले इलाकों से लेकर उत्तर प्रदेश के ज्यादातर हिस्से और राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली जोन-4 के अंतरगत आते हैं। दक्षिण के ज्यादातर हिस्से सीमित खतरे वाले जोन-2 में आते हैं।

आज ही न्यूजीलैंड में भी भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। समाचार एजेंसी आइएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक ये झटके उत्तरी द्वीप के पूर्वी तट पर महसूस किए गए। न्यूजीलैंड में आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.1 मापी गई। बताया जाता है कि भूकंप के इन तेज झटकों के बाद लोगों में दहशत का माहौल देखा गया। न्यूजीलैंड में पिछले महीने 8.1 तीव्रता का भूकंप आया था। इस भूकंप के बाद इलाके में सुनामी का अलर्ट भी जारी किया गया था।

 

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति