Sunday , April 18 2021

अमित शाह का ऐलान- जड़ से खत्‍म करेंगे नक्‍सलवाद, होगी बड़ी कार्रवाई, ऑपरेशन प्रहार-3 लॉन्‍च

नई दिल्‍ली। बीजापुर में हुए नक्‍सली हमले ने देश को एक बार फिर झकझोर दिया है । ऐसे ना जाने कितने ही हमले बार-बार होते हैं और देश के बहादुर जवान शहीद हो जाते हैं । शहीदों को श्रद्धांजलि देने छत्तीसगढ़ के जगदलपुर पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि जवानों का यह सर्वोच्च बलिदान है । उनके इस शौर्य ने इस लड़ाई को निर्णायक मोड़ पर पहुंचा दिया है। अब हम इसे अंजाम तक लेकर जाएंगे। शाह ने जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है। सीनियर ऑफिसर्स के साथ मीटिंग के बाद गृह मंत्री शाह ने मीडिया से बात की ।

नक्‍सली अब बच नहीं पाएंगे
केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और अधिकारियों के साथ मीटिंग की है। सभी के सुझावों पर कार्रवाई जारी है। उन्‍होंने कहा कि कैंप खुलने के बाद नक्सली बौखलाए हुए हैं । जहां मुठभेड़ हुई, वह इस बात को साबित करती है कि हम नक्सलियों के इलाके में बहुत अंदर तक पहुंच चुके हैं। हालांकि मीटिंग में तय बातों के बारे में बताने से गृह मंत्री ने इनकार कर दिया।

केन्‍द्र और राज्‍य मिलकर काम करेंगे
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी यहां कहा कि केंद्र और राज्य मिलकर नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। संकट की घड़ी में पूरा देश जवानों के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा, इस लड़ाई को हम विजय में बदलेंगे। जवानों ने नक्सलियों के गढ़ में घुसकर मारा है। नक्सली अब सिमट गए हैं। कहा, भारत सरकार और राज्य सरकार की ओर से विकास के कार्य में गति लाने का काम किया जा रहा है। इससे पहले, मुख्यमंत्री बघेल ने असम दौरे से लौटने के बाद कहा था कि यह मुठभेड़ नहीं, युद्ध हुआ है। नक्सलियों की यह अंतिम लड़ाई है। उनकी मांद में घुसकर जवानों ने उन्हें मारा है।

ऑपरेशन प्रहार-3 लॉन्‍च
सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि कल की समीक्षा बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ने दो टूक शब्दों में कह दिया है कि नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन में और तेजी लाई जाएगी । साथ ही इसके लिए ह्यूमन इंटेलिजेंस और टेक्निकल इंटेलिजेंस का सहारा लिया जाएगा । यही नहीं अब बड़े स्तर पर NTRO सुरक्षा एजेंसियों की रियल टाइम जानकारी देकर मदद करेगा । वहीं सुरक्षा एजेंसियां भी मोस्टवांटेड नक्सली कमांडर की लिस्ट बनाकर उनके खिलाफ़ जल्द ही बड़ा ऑपरेशन शुरू करेंगी । आज़तक को सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि ऑपरेशन प्रहार-3 के तहत उन बड़े नक्सलियों को निशाना बनाने की तैयारी है, जो भोले भाले युवाओं का ब्रेनवाश कर उनको नक्सल गतिविधियों में शामिल करने के लिए उकसाते हैं ।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति