Saturday , May 8 2021

यूपी में एक दिन में रिकॉर्ड कोरोना केस, 30596 नए मामले, 129 ने तोड़ा दम

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ने लगी है. इसको काबू में लाने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को टीम-11 को कई निर्देश दिए. उन्होंने मास्क नहीं पहनने वाले लापरवाह लोगों के खिलाफ सख्ती की जाए. उन्होंने आदेश दिया कि पहली बार पकड़े जाने पर 1,000 रुपए और दूसरी बार बिना मास्क पकड़े जाने पर 10,000 रुपए का जुर्माना लिया जाए.

इसके अलावा सीएम योगी ने टीम-11 को प्रदेश में ऑक्सीजन सप्लाई बेहतर करने के भी निर्देश दिए. सीएम योगी ने साफ कहा है कि किसी भी तरह की कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने आदेश दिया है कि रेमडेसिविर से लेकर सभी जरूरी दवाइयों की कमी नहीं होनी चाहिए.

यूपी में बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 30,596 नए मामले 

यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड मामले सामने आए हैं. महज 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के 30,596 मामले सामने आए हैं. जबकि इतने ही समय में 129 कोरोना संक्रमितों की जान गई है. केवल लखनऊ की बात करें तो पिछले 24 घंटे में 5,551 मामले सामने आए हैं. जबकि 22 लोगों की जान गई हैं. पूरे प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या 191457 है. जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 9830 पर पहुंच गई है. लखनऊ के अलावा प्रयागराज में 15, वाराणसी में 10 लोगों की जानें गई हैं.

नोएडा में बीते 24 घंटे में कोरोना के 700 मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हो गई है. वहीं गाजियाबाद में पिछले 24 घंटे में 253 मामले सामने आए हैं, जबकि दो लोगों की मौत हो गई है.
लखनऊ के प्राइवेट लैब में ये टेस्टिंग रुकी

उत्तर प्रदेश सरकार हर दिन 2लाख से ज्यादा कोविड टेस्ट कर रही है लेकिन फिलहाल लखनऊ में कई प्राइवेट लैब में ये टेस्टिंग पिछले करीब 10 दिन से रुकी हुई है. लखनऊ प्रशासन से सभी प्राइवेट लैब को यह कहा था कि वह अपनी रिपोर्ट यूपी सरकार के कोविड-19 साइट पर अपलोड करेंगे. लेकिन यह रिपोर्ट अपलोड करने में बेहद ही मुश्किल आ रही थी. बैकलॉग काफी ज्यादा जमा हो गया था. उसके बाद लखनऊ प्रशासन ने एसआरएल लालपैथ लैब जैसे कई प्राइवेट लैब्स को नोटिस जारी कर रोक दिया.

प्राइवेट लैब्स वालों का कहना है कि एक डाटा आईसीएमआर को भेजना पड़ता है और अलग से फिर यूपी सरकार के साइट पर लोड करना पड़ता है. ऐसे में काम का दबाव बढ़ने और मैन पावर कम होने की वजह से backlog जमा हो गया और इसी वजह से सरकार ने पहले बैकलॉग डाटा को सरकार के साइट पर अपलोड करने को कहा है. उसके बाद ही नई टेस्टिंग शुरू की जा सकती है..

लखनऊ प्रशासन ने कहा है कि फिलहाल जब तक कोविड-19 का पुराना टेस्ट डाटा अपलोड नहीं होता तब तक नए टेस्टिंग नहीं होंगे. ऐसा उन्हें बताया गया है इस वजह से लगभग सभी कंपनियों में पिछले 10 दिनों से कोविड-19 की प्राइवेट टेस्टिंग बंद है हालांकि प्रदेश के बाकी जिलों में यह टेस्टिंग जारी है.

यूपी में आज टोटल लॉकडाउन

कोरोना की चेन को तोड़ने के लिए पूरे राज्य में रविवार यानि आज टोटल लॉकडाउन रहेगा. ये लॉकडाउन शनिवार रात 8 बजे ही शुरू हो गया और सोमवार सुबह 7 बजे तक लागू रहेगा. इस दौरान किसी को भी बेवजह घरों से निकलने की इजाजत नहीं होगी. हालांकि, जरूरी सेवाएं चालू रहेंगी. अगर कोई एग्जाम है, तो छात्र निकल सकेंगे.

लॉकडाउन के दौरान उद्योगों और उनसे जुड़े कामकाज करने वाले कर्मचारी भी आ-जा सकेंगे. रविवार के दिन शादी समारोह भी हो सकेंगे. लेकिन शर्त ये है कि बंद जगहों पर 50 और खुली जगहों पर 100 लोगों की अनुमति होगी. वहीं, अंतिम संस्कार में 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे.

राजधानी लखनऊ में कोरोना की रफ्तार डराने लगी है. यहां शनिवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 5,913 नए मरीज मिले हैं और 36 लोगों की मौत हुई है. वहीं, पूरे यूपी की बात करें तो यहां शनिवार को 27,357 नए संक्रमित मिले हैं. 120 लोगों की जान गई है.

लोहिया अस्पताल में प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की
लखनऊ के लोहिया अस्पताल ने कोरोना से रिकवर हो चुके लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की है. अस्पताल ने कहां गंभीर मरीजों के इलाज के लिए प्लाज्मा की कमी होती जा रही है. इसलिए जो भी कोविड पॉजिटिव होने के बाद ठीक हुए हैं, वो लखनऊ के लोहिया संस्थान के ब्लड बैंक में प्लाज्मा डोनेट करें.

यूपी में शनिवार को कोरोना का हाल

  • 24 घंटे में नए मामलेः 27,357
  • अब तक कुल मामलेः 8,21,054
  • 24 घंटे में नई मौतेंः 120
  • अब तक कुल मौतेंः 9,703
  • एक्टिव केसः 1,70,059

अयोध्या में रामनवमी पर नहीं होगा उत्सव
कोरोना संक्रमण को बढ़ते देख इस साल अयोध्या में रामनवमी का उत्सव मेला आयोजित नहीं होगा. जिला प्रशासन की तरफ से जानकारी दी गई है कि उस दिन अस्थायी मंदिर में दोपहर बारह बजे रामलला के प्राकट्य मुहूर्त में विशेष आरती और महाभिषेक होगा. साथ ही रामलला परंपरागत रीति से पीले वस्त्र पोशाक धारण कर दर्शन देंगे. मंदिर निर्माण कार्य शुरू होने के बाद ये पहली रामनवमी है.

NIMS को कोविड अस्पताल बनाया गया
ग्रेटर नोएडा स्थित नोएडा इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस को कोविड अस्पताल घोषित किया गया है. यहां कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 300 बेड होंगे. यहां 15 अप्रैल से मरीजों की भर्ती भी शुरू हो गई है. अस्पताल में 35 बेड गंभीर मरीजों के इलाज के लिए और 16 कैजुअल्टी बेड बनाए गए हैं.

RTPCR निगेटिव, पर कोविड के लक्षण, तो ऐसे होगा इलाज
इस बीच ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें लोगों की आरटी-पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट तो निगेटिव आ रही है, लेकिन बाद में जब सीटी स्कैन या एक्सरे करवाया जाता है, तो कोविड निकलता है. ऐसे लोगों के साथ इलाज को लेकर दिक्कत होती थी. ऐसे मरीजों के लिए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है. गाइडलाइन के मुताबिक, अगर आरटीपीसीआर में रिपोर्ट निगेटिव आती है, लेकिन सीटी स्कैन, एक्सरे में कोविड निकलता है, तो ऐसे लोगों का इलाज कोरोना मरीजों की तरह ही होगा.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति