Saturday , May 8 2021

₹1 करोड़ की फ्लाइट-₹55 लाख का टीकाः देश को कोरोना में छोड़ लंदन-दुबई निकल रहे VVIP, प्राइवेट जेट कंपनियों की बल्ले-बल्ले

नई दिल्ली। कहते हैं, हर देश में दो दुनिया एक साथ चल रही होती है। खासकर विकासशील और गरीब देशों में। एक दुनिया होती है अमीरों की, यानी VVIPs की। दूसरी दुनिया होती है गरीबों की। एक तरफ संसाधनों के अभाव में लोग कोरोना संक्रमण से दम तोड़ रहे हैं, दूसरी ओर एक जमात ऐसी भी है जो करोड़ों खर्च कर विदेश जा रहे हैं। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक देश के अमीर 1 करोड़ रुपए के आसपास खर्च कर लंदन जा रहे हैं। बॉलीवुड सेलेब्स मालदीव में छुट्टियाँ मना रहे।

दुनिया भर के कई देशों ने संक्रमण के डर से भारत से आने वाले फ्लाइट्स पर पाबंदी लगा दी है। लेकिन देश के VVIPs प्राइवेट जेट्स किराया पर लेकर लंदन की सैर को जा रहे हैं, ताकि स्थिति ठीक होने पर वापस आ सकें। इससे प्राइवेट जेट्स का किराया आसमान छू रहा है।

‘द टाइम्स’ की एक खबर के अनुसार, पिछले हफ्ते यूके में भारत को ‘रेड लिस्ट’ की सूची में शामिल किया गया। यहाँ के नागरिकों को ब्रिटेन जाने पर होटल में क्वारंटाइन की अनिवार्यता लागू कर दी गई। फिर भी कम से कम 9 VVIPs ने प्राइवेट जेट्स बुक कर 9 घंटे का सफर तय किया। ये सभी फ्लाइट्स यूके के लिए थीं। ये प्लेन्स रेड लिस्ट डेडलाइन्स से 45 मिनट पहले तक पहुँचते रहे।

बताया जा रहा है कि इसके लिए अमीरों ने प्रत्येक फ्लाइट पर करीब £100,000 (1.03 करोड़ रुपए) खर्च किए। इस महीने की शुरुआत में ही एयर इंडिया, विस्तारा, ब्रिटिश एयरवेज और वर्जिन अटलांटिक जैसी कंपनियों की वेबसाइटों पर यूके जाने के लिए टिकट उपलब्ध नहीं थे। वर्जिन अटलांटिक का कहना है कि उसे सरकार की तरफ से फ्लाइट की संख्या कम रखने का आदेश मिला है, इसलिए न तो फ्लाइट्स और न ही सीटों की संख्या बढ़ाई जा सकती है।

19 अप्रैल 2021 को 4 दिनों के नोटिस के साथ यूके ने भारत को ‘रेड लिस्ट’ में शामिल किया। अप्रैल 23 को सुबह 4 बजे के बाद से सिर्फ यूके के नागरिकों को ही भारत से वहाँ की यात्रा करने की अनुमति है। उन्हें भी होम क्वारंटाइन में रहना पड़ेगा। यूके में भारतीय वैरिएंट के 100 से अधिक कोरोना मामले मिल चुके हैं। फ्रांस, UAE, इंडोनेशिया, अमेरिका, हॉन्गकॉन्ग, कनाडा, मालदीव, ऑस्ट्रेलिया और सिंगापुर ने भी भारतीय पर्यटकों को लेकर ऐसे ही प्रतिबंध लगाए हैं।

एक प्राइवेट चार्टर्ड फ्लाइट सर्विस का तो कहना है कि प्राइवेट जेट्स किराया पर लेने के लिए लोगों में पागलपन सवार है। उक्त कंपनी ने एक दिन में ऐसी 12 फ्लाइट्स दुबई भेजी और सभी फुल थे। इस तरह एन्ट्रल एविएशन ने बताया कि 80 लोगों ने उससे संपर्क साधा। इसके लिए विदेश से और भी एयरक्राफ्ट्स मँगाए जा रहे हैं। मुंबई से दुबई 13 सीटर के £27,337 (28.31 लाख रुपए) और 6 सीटों वाले एयरक्राफ्ट के लिए £22,301 (23.10 लाख रुपए) देने होते हैं।

इससे पहले खबर आई थी कि भारत के कुछ ऐसे रईस भी हैं जो कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए दुबई जा रहे हैं और इसके लिए 55 लाख रुपए तक खर्च कर रहे हैं। इसके लिए वो चार्टर्ड फ्लाइट्स तक बुक करा रहे हैं। UAE में एस्ट्राजेनेका, साइनोफार्म और फाइजर जैसे वैक्सीन उपलब्ध हैं, लेकिन लोग फाइजर को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं। चार्टर ऑपरेटर्स का कहना है कि कुछ लोग वैक्सीन की दो डोज लगाने के लिए दुबई में ही रह रहे हैं, जबकि कुछ लोग वहाँ के दो चक्कर लगा रहे हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति