Thursday , June 24 2021

टूलकिट मामले में कॉन्ग्रेस के 2 नेताओं को नोटिस, ट्विटर HQ में हड़कंप: FBI के पूर्व अधिकारी को काम पर लगाया

नई दिल्‍ली।  दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने ‘टूलकिट’ मामले की जाँच को आगे बढ़ाते हुए कॉन्ग्रेस के दो नेताओं को भी नोटिस भेजा है। मंगलवार (मई 25, 2021) को कॉन्ग्रेस पार्टी की आईटी सेल के मुखिया रोहन गुप्ता और पार्टी के प्रवक्ता MV राजीव गौड़ा को नोटिस भेजी गई। कहा जा रहा है कि इस मामले में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा को भी समन भेजा जा सकता है। भाजपा ने कॉन्ग्रेस पर ‘टूलकिट’ के जरिए देश, हिन्दू धर्म और कुंभ को बदनाम करने के आरोप लगाए थे।

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली और गुरुग्राम स्थित ‘ट्विटर इंडिया’ के दफ्तरों में जाकर नोटिस दिया। ट्विटर ने सोशल मीडिया पर कुछ हैंडल्स द्वारा शेयर किए गए पोस्ट्स को ‘छेड़छाड़ किया हुआ मीडिया’ बता दिया था। दिल्ली पुलिस ने शारीरिक रूप से जाकर ट्विटर के दोनों दफ्तरों को नोटिस दिया। इससे पहले केंद्र सरकार ने ट्विटर द्वारा टूलकिट वाली ट्वीट्स पर भ्रामक का ठप्पा लगाए जाने पर आपत्ति जताई थी।

इनमें से एक ट्वीट संबित पात्रा का भी है। दिल्ली पुलिस ने अब तक इस मामले की FIR दर्ज नहीं की है लेकिन सभी पक्षों को समन कर के उनका बयान दर्ज किए जाने के बाद FIR दर्ज की जा सकती है। अभी इससे जुड़े संगठनों और व्यक्तियों को समन कर शुरुआती जाँच की जा रही है। दिल्ली पुलिस ने Twitter से पूछा है कि उसने पास इस टूलकिट को लेकर क्या सूचनाएँ हैं और किन तथ्यों के आधार पर उसने इन्हें ‘छेड़छाड़ किया हुआ’ करार दिया।

दिल्ली पुलिस ने कहा कि’टूलकिट मामले में कॉन्ग्रेस नेताओं को समन कर इस पूरे घटनाक्रम का विवरण माँगा जाएगा। संबित पात्रा से भी पूछताछ हो सकती है। दिल्ली पुलिस के PRO चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि ये एक रूटीन प्रक्रिया का ही हिस्सा है। उन्होंने बताया कि ‘ट्विटर इंडिया’ के MD की तरफ से जो नोटिस आया है वो अस्पष्ट है। इस मामले की शिकायतकर्ता कॉन्ग्रेस पार्टी ही है, जिसके नेताओं ने पात्रा व अन्य भाजपा नेताओं के खिलाफ पुलिस व ट्विटर को नोटिस भेजा।

TOI की खबर के अनुसार, इससे अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को स्थित ट्विटर के मुख्यालय में भी हड़कंप मच गया है और कंपनी के डिप्टी जनरल काउंसल व VP जिम बेकर को पूरे मामले को संभालने के लिए लगाया गया है, जो पूर्व में अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसी FBI के अधिकारी भी रहे हैं। TOI के सूत्रों का कहना है कंपनी बायडेन प्रशासन से भी मदद माँग सकती है। ट्विटर में पैनिक का माहौल है और अब नजरें बेकर के अगले कदमों पर है।

गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस पार्टी ने बुधवार (19 मई, 2021) को ट्विटर को एक ईमेल भेज कर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रवक्ता संबित पात्रा, केंद्रीय कपड़ा और महिला व बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी, राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) बीएल संतोष समेत कई पार्टी पदाधिकारियों के हैंडल्स को सस्पेंड करने को कहा था। कॉन्ग्रेस ने आरोप लगाया था कि जिस दस्तावेज को उसका टूलकिट बता कर शेयर किया जा रहा है, वो फर्जी है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति