Friday , June 18 2021

सीएम योगी ने बताया यूपी में क्यों नहीं लगाया कंप्लीट लॉकडाउन, कोरोना कर्फ्यू का क्या हुआ फायदा

मिर्ज़ापुर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना महामारी की लड़ाई मजबूती के साथ आगे बढ़ रही है और जीवन व जीविका दोनों को बचाने का लक्ष्य है। योगी ने कोरोना महामारी से निपटने की तैयारियों को देखने के सिलसिले में मंगलवार को मिजार्पुर पहुंचे थे। यहां उन्होंने पत्रकारों से कहा कि जीवन और जीविका बचाने के लिए ही पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया। इसके स्थान पर आंशिक कर्फ्यू लगाया गया है। जिससे उद्योग चल रहे हैं। फिर भी कोविड के चलते नाई, धोबी सहित पटरी से जीविका अर्जित करने वालो गरीबों की जीविका समाप्त हुई है। उन्हें जून व जुलाई में फ्री राशन और भरण-पोषण भत्ता दिया जाएगा। एक जून से प्रदेश के सभी जिलों में 18 से 44 आयु के लोगों को टीकाकरण शुरू होगा।

उन्होंने कहा कि कोरोना की इस लड़ाई में प्रधानमंत्री के महामंत्र पर चलने से बेहतर परिणाम आया है। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर रही। उन्होंने कहा कि आशंका व्यक्त की जा रही थी 25 अप्रैल से 10 मई के बीच अधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में एक लाख से अधिक केस प्रतिदन आएंगे और हालत बेहद खराब होगे, लेकिन प्रधानमंत्री  के महामंत्र पर प्रबन्धन से ऐसी आशंकाएं गलत साबित हुई। उन्होंने कहा कि राज्य में टेस्ट और ट्रीट का फामूर्ला चलाया और प्रतिदन तीन लाख 25 हजार कोरोना ट्रेस्ट हो रहे हैं। आज 38 हजार से तीन हजार 900 कोरोना  पॉजिटब मिले हैं। कोरोना संकमण दर 17 से घटकर अब दो फीसदी तक आ गई है। यह सब शासन ,प्रशासन, डाक्टरों एवं जनता जनार्दन के सहयोग से ही हुआ।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसकी व्यवस्था की जा रही है और टीकाकरण सबसे बड़ी प्राथमिकता है। एक जून से प्रदेश के सभी जिलों में 18 से अधिक आयु के लिए टीका करण शुरू किया जा रहा। साथ ही 12 वर्ष के बच्चों के अभिभावकों के लिए विशेष टीकाकरण केन्द्र बनाये जायेगे। मुख्यमंत्री ने विन्ध्याचल मंडल में कोरोना पर नियंत्रण के लिए अधिकारियों की सराहना की। जिले में पिछले तीन दिनो से एक अंक में कोरोना पॉजिटब मरीज मिल रहे हैं। इस के पूर्व मुख्यमंत्री ने मंडलीय अस्पताल का निरीक्षण किया तथा नव स्थापित आक्सीजन प्लाट का मरीजों के लिए लोकार्पण किया। यह प्रधानमंत्री रिलिफ फंड से बनाया गया है। उन्होंने नुआंव गांव में चौपाल लगाकर गांववासियों को ट्रिप्स दिए। सिटी ब्लाक के गुरूसंडी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भी निरीक्षण कर डाक्टरों एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मियों से बातचीत कर हाल जाना। उन्होंने आयुक्त कायार्लय में जनप्रतिनिधियों के साथ अन्य अधिकारियों से कोरोना के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी हासिल कर उन्हें जरुरी दिशा निदेर्श दिए। पूरे कार्यक्रम में स्थानीय सांसद अनुप्रिया पटेल, रामसकल एवं विधायक रत्नाकरमिश्र सुचिस्मिता मोयार्, मंत्री रमाशंकर पटेल उपस्थित थे।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति