Thursday , June 24 2021

ओलंपिक पदक विजेता के ये कारनामे तो कतई सुशील नहीं, गैंगस्टर से लेकर डॉन तक कनेक्शन

सागर धनखड़ हत्या केस में सुशील कुमार के खिलाफ जांच रफ्तार पकड़ चुकी है, दिल्ली पुलिस की नजर अब इस क्राइम नेटवर्क का पर्दाफाश करने पर है, जिसका सुशील कुमार हिस्सा थे, जेल में बंद गैंगस्टर नीरज बवाना भी इस नेटवर्क में शामिल बताया जा रहा है, पुलिस मामले में कह रही है कि उन्हें सुशील और बवाना के एक साथ काम करने से जुड़े कई और सबूत मिले हैं।

नीरज बवाना से जुड़ा केस

जिस जगह सागर की हत्या हुई, वहां से बरामद एक स्कॉर्पियो एसयूवी के तार बवाना के एक गुर्गे मोहित से जुड़े थे, सूत्रों के मुताबिक ये भी पता चला है कि हत्या की रात सुशील के साथ जो लोग थे, उनमें से ज्यादातर नीरज के गुंडे थे, इस केस में कम से कम सात और आरोपी फरार चल रहे हैं, उन्हें पकड़ने के लिये छापेमारी की जा रही है।

रंगदारी के केस में भी सुशील का नाम

सूत्रों ने बताया कि कुछ हफ्तों पहले मॉडल टाउन इलाके में सामने आये रंगदारी के मामले में भी सुशील कुमार का नाम आया था, भगोड़े गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी ने केबल के एक व्यापारी से 1 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी थी, फोन एक अंतरराष्ट्रीय नंबर से किया गया था, जांच में ये भी पता चला है कि इस रंगदारी के पीछे सुशील कुमार था। जठेड़ी चाह रहा था कि दिल्ली, यूपी और हरियाणा के टोल बूथों पर पूरी तरह से उसका कब्जा हो जाए, इस काम में वो सुशील की मदद लेना चाहता था, हालांकि दोनों के रास्ते दो महीने पहले ही अलग हो चुके हैं।

नीरज से हाथ मिलाया

रंगदारी के मामले में जठेड़ी और सुशील कुमार के अलग होने से पहले का है, दोनों के बीच मॉडल टाउन की संपत्ति में हिस्से को लेकर अनबन हुई, इसी के बाद सुशील ने जेल में बंद गैंगस्टर नीरज बवाना और नवीन बाली से हाथ मिलाया, पुलिस इन दोनों से पूछताछ की तैयारी कर रही है, पुलिस ने कहा कि सुशील कुमार ना सिर्फ इन दोनों से बचता फिर रहा था, बल्कि काला जठेड़ी भी उसकी जान का दुश्मन बना हुआ था, जठेड़ी उत्तर भारत के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर्स में से एक है, इस समय उसके दुबई में होने का शक है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति