Sunday , July 25 2021

LIVE: कश्मीर पर PM मोदी की महाबैठक शुरू, फारूक-महबूबा समेत 14 नेता शामिल, अजीत डोभाल भी पहुंचे

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में जम्मू-कश्मीर को लेकर बैठक की जा रही है. अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के करीब दो साल के बाद केंद्र सरकार की ओर से राज्य के नेताओं के साथ बातचीत की जा रही है.

नई दिल्ली में PM आवास पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हो रही इस बैठक में फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, उमर अब्दुल्ला, गुलाम नबी आजाद, रविन्द्र रैना, कवींद्र गुप्ता, निर्मल सिंह, सज्जाद लोन, भीम सिंह समेत अन्य कई नेता शामिल हैं.

इस मीटिंग में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, NSA अजीत डोभाल, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के अलावा केंद्र के अन्य कई अफसर भी मौजूद हैं.

जानकारी के मुताबिक, मीटिंग में डॉ. जितेंद्र सिंह द्वारा सभी का स्वागत किया जाएगा. जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से ओपनिंग रिमार्क दिए जाएंगे. पीएम मोदी के बाद फारूक अब्दुल्ला की ओर से अपनी बात कही जाएगी.

महबूबा मुफ्ती के बयान से फारूक ने बनाई दूरी 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मीटिंग से पहले फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि कोई एजेंडा नहीं है, हम अपनी बात रखेंगे और पीएम-गृह मंत्री से बात करेंगे, ताकि रियासत में शांति आए. फारूक ने कहा कि हमारे चाहने का सवाल नहीं है, चाहते तो हम आसमान हैं. पहले हम पीएम मोदी से बात करेंगे, बाद में मीडिया से बात करेंगे.

महबूबा मुफ्ती द्वारा दिए गए पाकिस्तान से बातचीत के बयान पर फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि वो उनका एजेंडा है, हम अलग-अलग पार्टी हैं ऐसे में ये उनकी बात है. हालांकि, पीएम मोदी द्वारा बुलाई गई इस मीटिंग का फारूक अब्दुल्ला ने स्वागत किया, साथ ही उन्होंने कहा कि वो अपने वतन की बात करते हैं और मैं पाकिस्तान वगैरह की बात नहीं करता.

पीएम मोदी से मिलने पहुंचे अमित शाह
जम्मू-कश्मीर पर होने वाली बैठक से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह प्रधानमंत्री आवास पर पहुंचे. शाम को होने वाली मीटिंग से पहले ये मुलाकात अहम रही. इस दौरान केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी यहां मौजूद रहें.

बातचीत से पहले बोले भीम सिंह…
पैंथर्स पार्टी के भीम सिंह ने पीएम मोदी के साथ होने वाली मीटिंग से पहले कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने अपनी बात रखेंगे और यह कहेंगे कि जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा मिले. साथ ही विधानसभा चुनाव भी कराया जाना चाहिए. भीम सिंह ने कहा कि महबूबा मुफ्ती अपनी राजनीति बचाने के लिए पाकिस्तान का नाम लेती हैं, हम उनको तवज्जो नहीं देते हैं.

बैठक से पहले जम्मू-कश्मीर में अलर्ट, इंटरनेट पर भी नज़र
पीएम मोदी की इस अहम मीटिंग से पहले जम्मू-कश्मीर में हलचल है, राज्य में 48 घंटे के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है. लाइन ऑफ कंट्रोल पर भी नज़र पैनी कर दी गई है. वहीं, ज़रूरत पड़ने पर इंटरनेट की सुविधा पर भी रोक लगाई जा सकती है. बता दें कि पीएम मोदी की मीटिंग से पहले बुधवार को ही आतंकवादियों ने एक बार फिर हमला किया था.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति