Sunday , July 25 2021

‘CM योगी पहाड़ी, गोरखपुर मंदिर मुस्लिमों की’: धर्मांतरण पर शिकंजे से सामने आई मुनव्वर राना की हिंदू घृणा

लखनऊ। शायर मुनव्वर राना ने उत्तर प्रदेश ATS (आतंक रोधी दस्ता) द्वारा गिरफ्तार किए गए दो मौलानाओं और उन पर लगे 1000 हिन्दुओं के इस्लामी धर्मांतरण के आरोपों पर टिप्पणी की है। मुनव्वर राना ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि ATS को ही ख़त्म कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि ATS को 1000 से ऊपर गिनती ही नहीं आती है, वरना वो इसे 4000 भी बना देते। उन्होंने पूछा कि जब धर्मांतरण का आँकड़ा 100 पहुँचा होगा, तब क्या ATS बैठ कर गाँजा पी रही थी?

मुनव्वर राना ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में भाजपा हार जाएगी, लेकिन योगी आदित्यनाथ जीत जाएँगे। उन्होंने दावा किया कि योगी आदित्यनाथ को प्रधानमंत्री बनने की इतनी जल्दी है कि 1000 क्या, वो ये भी कह सकते हैं कि यूपी में 1 करोड़ हिन्दू धर्मांतरण कर के मुस्लिम बन गए हैं। उन्होंने कहा, “बेचारे हिन्दू इतने कमजोर हो गए हैं कि वो कुछ पैसों के लालच के लिए मुस्लिम हो जाते हैं।”

मुनव्वर राना ने कहा कि कोरोना महामारी ने हिन्दू-मुस्लिम का फासला मिटा दिया था और दोनों ये समझ गए थे कि उन्हें मिलजुल कर रहना चाहिए और एक-दूसरे के काम आना चाहिए, लेकिन चुनाव के लिए ये सब ‘कहानी’ गढ़ी जा रही है। उन्होंने कहा कि हिन्दू-मुस्लिम नफरत के लिए ये सब किया जा रहा है। मुनव्वर राना ने बड़ा दावा किया कि कल को 20 महिलाओं को बिठा कर ये भी कहवाया जा सकता है कि मुस्लिमों ने उनका रेप किया है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास और कोई काम रह नहीं गया है, इसीलिए वो ‘मदरसे में रेप’ और मस्जिदों में आपराधिक वारदात वाली बातें करेंगे। उन्होंने कहा कि जिस मठ में बैठ कर योगी जी मुस्लिमों को गालियाँ देते हैं, उस मठ की जमीन मुस्लिमों ने ही दी है। उन्होंने आरोप लगाया कि एक ‘पहाड़ी’ ने आकर उत्तर प्रदेश पर कब्ज़ा कर लिया है। साथ मौलानाओं की गिरफ़्तारी को ‘चुनावी तिकड़म’ करार दिया।

वहीं ‘TV9 भारतवर्ष’ से बात करते हुए मुनव्वर राना ने आशंका जताई कि मुख्तार अंसारी को मरवाया जा सकता है और इसके आरोप भी सीएम योगी पर मढ़ा। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ को मानने वाले 99% लोग सांप्रदायिक हैं। उन्होंने कहा कि ‘1000 धर्मांतरण’ वाले मुद्दे से सीएम योगी को चुनाव में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि कोई नमाज पढ़ने से मुस्लिम नहीं हो जाता। साथ ही कहा कि ‘जिहाद’ का मतलब है अपने-आप पर काबू रखना।

इसी साल अप्रैल में खबर आई थी कि यूरिन में इन्फेक्शन की वजह से मुनव्वर राना को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था। 68 वर्षीय शायर राणा गले के कैंसर से भी पीड़ित हैं। साल 2017 में उनके सीने में तेज दर्द उठा था। उनके फेफड़ों और गले में इंफेक्शन भी हुआ था, जिसके बाद उन्हें SGPGI में भर्ती कराया गया था।  पिछले 7 सालों में कई बार उनके घुटने का ऑपरेशन हो चुका है, लेकिन इसके बाद भी उन्हें चलने-फिरने में दिक्कत हो रही थी।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति