Thursday , July 29 2021

ट्विटर पर अब हिंदू देवी के अपमान का केस, महुआ मोइत्रा के ‘Susu Potty’ ट्वीट का हाईकोर्ट में किया बचाव

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के खिलाफ पाँचवी शिकायत दर्ज हुई है। एक वकील ने हिन्दू देवी के अपमान पर दिल्ली पुलिस की साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है। हालाँकि, ट्विटर इन शिकायतों के बाद भी बाज नहीं आ रहा है। दिल्ली हाईकोर्ट में ट्विटर ने तृणमूल कॉन्ग्रेस (टीएमसी) नेता महुआ मोइत्रा और प्रोपेगेंडाबाज पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी के आपत्तिजनक ट्वीट का यह कहते हुए बचाव किया कि दोनों के ट्वीट, उसकी नीतियों का उल्लंघन नहीं करते हैं।

दरअसल, एथिस्ट रिपब्लिक नाम के ट्विटर हैन्डल से कुछ टीशर्ट की तस्वीर पोस्ट की गई। इनमें से एक टीशर्ट पर देवी काली की तस्वीर बनी हुई थी। शिकायत दर्ज कराने वाले वकील द्वारा इसे आपत्तिजनक माना गया और इस संबंध में दिल्ली पुलिस की साइबर सेल में ट्विटर के एमडी मनीष माहेश्वरी और ट्विटर हैन्डल एथिस्ट रिपब्लिक के खिलाफ मामला दर्ज कराया। ट्विटर के खिलाफ दर्ज इस शिकायत में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने का आरोप लगाया गया है।

पहले भी दर्ज हुए हैं मामले

ट्विटर के खिलाफ यह पाँचवीं शिकायत है। ट्विटर के खिलाफ 2-2 मामले दिल्ली और उत्तर प्रदेश में दर्ज हो चुके हैं जबकि एक मामला मध्य प्रदेश में दर्ज हुआ है। गाजियाबाद में एक मुस्लिम बुजुर्ग से मारपीट के मामले में ट्विटर पर खूब फेक न्यूज फैलाई गई और कहा गया कि मुस्लिम बुजुर्ग को ‘जय श्री राम’ बुलवाने के लिए पीटा गया लेकिन ट्विटर ने इन फेक न्यूज पर कोई कार्रवाई नहीं की। इसी के चलते गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर के खिलाफ मामला दर्ज किया। इसके अलावा हाल ही में देश का गलत नक्शा अपनी वेबसाइट पर दिखाने के कारण बुलंदशहर और मध्यप्रदेश में ट्विटर के खिलाफ शिकायत दर्ज हुई।

चाइल्ड पॉर्नोग्राफिक कंटेन्ट के कारण भी दिल्ली पुलिस की साइबर सेल में ट्विटर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। इस संबंध में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के द्वारा शिकायत की गई थी। जिसके बाद ट्विटर इंक और ट्विटर कम्युनिकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ।

टीएमसी नेता और प्रोपेगेंडा पत्रकार का बचाव

टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा और पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी के आपत्तिजनक ट्वीट पर कार्रवाई करने में असफल रहने के बाद ट्विटर इंक के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। यहाँ दोनों के द्वारा किए गए ट्वीट के स्क्रीनशॉट दिए गए हैं जिनके आधार पर ट्विटर के खिलाफ याचिका दायर हुई।


टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा के द्वारा किए गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट

पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी के ट्वीट का स्क्रीनशॉट

इस पर ट्विटर ने कोर्ट में मोइत्रा और चतुर्वेदी का बचाव करते हुए कहा कि दोनों के ट्वीट ऐसे नहीं थे कि उन पर कार्रवाई की जाए। ट्विटर का कहना था कि दोनों के ट्वीट किसी भी प्रकार से ट्विटर की किसी भी नीति का उल्लंघन नहीं करते हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति