Thursday , July 29 2021

SP सांसद आजम खां की तबीयत फिर बिगड़ी, सीतापुर जेल से मेदांता लखनऊ में भर्ती

लखनऊ। रामपुर में जमीनों के हेरफेर के छह दर्जन से अधिक मामलों में आरोपित समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां की तबीयत फिर खराब हो गई है। बेटे पूर्व विधायक अब्दुल्ला आजम खां के साथ सीतापुर की जिला जेल में बंद आजम खां लम्बे समय से कोरोना के संक्रमण में थे।

सीतापुर जिला जेल में सोमवार को उनकी तबीयत एक बार फिर खराब होने के कारण जिला अस्पताल भेजा गया।जेल में आज अचानक उनकी तबीयत फिर खराब हो गई। सांस लेने में तकलीफ होने पर उनको जिला अस्पताल भेजा गया। जहां से एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस से उनको लखनऊ के मेदांता अस्पताल भेजा गया । उनको सांस लेने में काफी दिक्कत हो रही है। कमजोरी और सांस लेने में तकलीफ के चलते आजम खां को दोबारा लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के निदेशक डॉक्टर आरके कपूर ने बताया कि अपराह्न करीब 3:30 बजे उन्हें अस्पताल लाया गया। क्रिटिकल केयर टीम उनकी जांच व इलाज में जुटी है। फिलहाल उनकी तबीयत इससे और नियंत्रण में है।

रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद तथा मुलायम सिंह यादव व अखिलेश यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे आजम खां सीतापुर के जिला कारागार में बंद हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण वह करीब तीन महीने तक लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। आजम खां को आज सुबह से ही सांस लेने में तकलीफ थी। शिकायत पर जेल प्रशासन ने मामले की सूचना जिला प्रशासन को दी। जिला प्रशासन ने वरिष्ठ डॉक्टरों के एक पैनल को जेल भेजकर प्राथमिक चेकअप कराया। आजम खां का ऑक्सीजन लेवल 88 पहुंच चुका था।

jagran

तीन डॉक्टर की एक टीम ने उनका चेकअप किया और उनकी हालत गंभीर देखते हुए उन्हेंं लखनऊ रेफर कर दिया है। जेल प्रशासन ने भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में आजम खां को जेल से लखनऊ रवाना किया। आजम खां पहले भी कोविड पॉजिटिव हो चुके हैं। इसके चलते आज उनका ऑक्सीजन लेवल 88 होने के चलते उनकी हालत लगातार बिगड़ रही है।

आजम खां इससे पहले 13 जुलाई की दोपहर 12:35 पर सीतापुर जेल आए थे और आज फिर उन्हेंं सांस लेने में तकलीफ होने की शिकायत पर लखनऊ भेजा गया। उन्हेंं लाइफ सपोर्ट सिस्टम एंबुलेंस से भेजा गया। उनके पुत्र अब बिल्कुल स्वस्थ हैं।

सांसद का सोमवार सुबह आक्सीजन लेवल कम हो गया । उनकी तबीयत खराब है। जेल अस्पताल की सलाह पर कारागार प्रशासन ने जिला अस्पताल के डाक्टरों को बुलाया। एसडीएम सदर अमित भट्ट और सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गए । जिला अस्पताल के डाक्टरों की टीम भी जिला कारागार में पहुंचकर सपा सांसद के स्वास्थ्य परीक्षण में सक्रिय हो गई है। सांसद आजम खान का आक्सीजन लेवल 88 प्रतिशत होना बताया जा रहा है। उन्हें अभी कमजोरी है। शरीर बुजुर्ग होने के कारण उनका स्वास्थ्य खराब हुआ है। आक्सीजन लेवल घटा है।

95 दिन तक चला था कोरोना का इलाज: बता दें कि सप्‍ताह भर पूर्व ही स्वस्थ होने के बाद रामपुर से सपा सांसद आजम खां और उनके बेटे अब्दुल्ला मंगलवार को जिला कारागार वापस आए थे। वह लखनऊ में करीब 95 दिन तक भर्ती रहे। लखनऊ अस्पताल में उनका इलाज चला। 13 जुलाई की सुबह आजम और उनके बेटे को एंबुलेंस से लखनऊ के मेदांता अस्पताल से सकुशल जिला कारागार लाया था। जिला कारागार में रामपुर सांसद और उनके पुत्र एंबुलेंस से मंगलवार दोपहर पहुंचाए गए थे। वह लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। आजम खां अप्रैल की शुरुआत महीने में कोरोना से संक्रमित हो गए थे। जिला कारागार में उच्च सुरक्षा बैरक में आजम खां के साथ ही विरुद्ध उनका बेटा अब्दुल्ला भी कोरोना से संक्रमित हो गए थे। पिता-पुत्र के संक्रमित होने के बाद जिला प्रशासन ने शासन की अनुमति से लखनऊ के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया था। वही लखनऊ के अस्पताल में उनका 95 दिन तक इलाज चला। सांसद और उनके बेटे के स्वस्थ होने के बाद मंगलवार सुबह जिला प्रशासन को सूचना प्राप्त हुई। सांसद और उनके बेटे के स्वस्थ होने के बाद मंगलवार सुबह जिला प्रशासन को सूचना प्राप्त हुई। सांसद और उनके बेटे को कड़ी सुरक्षा के बीच पुन: जिला कारागार लाया गया था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति