Friday , September 24 2021

वृक्षारोपण व संरक्षण के प्रति जागरूकता के लिए वन महोत्सव का आयोजन

बवाना में 10 दिवसीय वन महोत्सव का आयोजन
पर्यावरण संरक्षण स्वस्थ जीवन के लिए बेहद आवश्यक

नई दिल्ली। आज जिस ऑक्सीजन के लिए हमने अपनों को खोया है वो हमें मुफ्त में मिल सकती है, बस हमें अधिक से अधिक पौधरोपण कर उसका पालन पोषण करना होगा। और यह तभी मुमकिन है जब हम सब एकजुट होकर पर्यावरण संरक्षण के प्रति खुद जागरूक रहें ओर दूसरों को भी जागरूक करें. इसी क्रम में ग्रीन बवाना के उदेश्य को लेकर बवाना इन्फ्रा द्वारा 10 दिनों का वन महोत्सव का आयोजन किया गया है. इस दस दिवसीय वन महोत्सव कार्यक्रम में 15 हज़ार पेड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है. आपको बता दें की डीएसआईआईडीसी के कन्सेशनर के तौर पर काम कर रहे बवाना इन्फ्रा डेवलपमेंट द्वारा इस वर्ष 5 से 15 अगस्त तक वन महा उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। बवाना इन्फ्रा डेवेलपमेंट ने वृक्षारोपण के बाद इन पौधों की देखभाल और संरक्षण करने की जिम्मेदारी भी ली है। इस अवसर पर बवाना इन्फ्रा के डायरेक्टर पुलकित अग्रवाल ने कहा कि हमारा बवाना औद्योगिक क्षेत्र को हरा भरा बनाने का एक सपना है जिसे हम पूरा करने के लिए वचनबद्ध है. जिसके लिए हमारे द्वारा प्रतेक दिन अधिक से अधिक पौधरोपण किया जा रहा। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि वृक्ष पर्यावरण संतुलन को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वृक्षों से अनेक प्रकार की जड़ी-बूटियां भी प्राप्त होती हैं। वृक्ष धरा के आभूषण होते हैं। उन्होंने धरती को हरा-भरा बनाने के लिए अधिक से अधिक पौधारोपण के लिए प्रेरित कर हरियाली बचाने एवं बढ़ाने की सभी से अपील की. इसके बाद बवाना इन्फ्रा के अफसरों ने चिह्नित कई स्थानों पर पहुंचकर अमरुद और जामुन, पीपल के पौधे लगाए। उन्होंने बताया कि प्राकृतिक आपदाओं से हम तभी सुरक्षित रहेंगे जब हम पर्यावरण का संरक्षण करेंगे। हर नागरिक अगर एक वर्ष में एक पौधा लगाने का संकल्प करें तो हम ना केवल क्षेत्र खूबसूरत बना लेंगे बल्कि स्वस्थ क्षेत्र का निर्माण कर लेंगे। पर्यावरण संरक्षण आज किसी एक व्यक्ति की जिम्मेदारी नहीं बल्कि यह पूरे समाज की जिम्मेदारी है। यदि हम सभी मिलकर पेड़-पौधे लगाकर उसका संरक्षण करने के प्रति जागरूक हो जाएं तो निश्चित ही पर्यावरण संरक्षण में सुधार आ सकता है। यदि हमें अपने आने वाली पीढ़ी को सुरक्षित रखना है तो पर्यावरण संरक्षण पर ध्यान देना बेहद जरूरी है। इस कार्य में केवल एक नहीं पूरे समाज के लोगों के सहभागिता जरूरी है। इस मौके पर बवाना इन्फ्रा के जीएम मुकेश कुमार, ,एसोसिएशन ऑफ़ बवाना इंडस्ट्रीज के जितेन्द्र अग्रवाल,आशीष अग्रवाल, सुभाष खन्ना, बवाना इन्फ्रा के डायरेक्टर पुलकित अग्रवाल सहित अन्य अधिकारियों ने नींबू, आंवला, आम, चितवन, जामुन आदि के पौधे का रोपण किया।
आज के वृक्षारोपण में 400 से अधिक फलदार व फूलदार पौधे लगाये गए.इस वन महा उत्सव में गुलमोहर, पीपल, सह्तुत, नीम, चंपा, अमलताश, अर्जुन, मेहंदी समेत 30 अलग-अलग तरह के पेड़-पौधों को लगाया जाएगा। वृक्षारोपण के दौरान बवाना इन्फ्रा डेवलपमेंट के महाप्रबंधक मनोज अग्रवाल ने लोगों ने आग्रह किया कि इस उत्सव में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लें और कम से कम 5 पेड़ अवश्य लगाएं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति