Tuesday , September 28 2021

‘मेरा येशु येशु’: अपनी ही अनुयायी का रेप कर चुका है सूट-बूट वाला पादरी बजिंदर सिंह, सभा में सुंदर युवतियों पर रखता था नजर

सात साल पुराना ‘मेरा यशु यशु’ गाने का मीम वीडियो बीते ​कुछ दिनों से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक लड़के को रोते हुए दिखाया गया है, जिसे एक आदमी (जो कि शायद पादरी होता है) उससे पूछता है कि क्या उसकी बहन पहले बोल सकती थी। लड़का ‘नहीं’ में जवाब देता है। फिर उससे पूछा जाता है कि क्या वह अब बोल सकती है, और इस बार वह ‘हाँ’ में जवाब देता है। तभी बैकग्राउंड में गाना बजता है, “मेरा यशु यशु।”

दरअसल, इसमें नजर आने वाले पादरी का नाम बजिंदर सिंह है, जिसे जीरकपुर पुलिस ने कथित बलात्कार के मामले में 3 साल पहले गिरफ्तार किया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह हरियाणा का जाट था, जिसने बाद में ईसाई धर्म अपनाकर पंजाब में इसका प्रचार करना शुरू कर दिया था।

भविष्य में होने वाली घटनाओं की भविष्यवाणी करने वाले 39 वर्षीय पादरी बजिंदर सिंह को जीरकपुर पुलिस ने उसी की फॉलोअर युवती से रेप करने के आरोप में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था। 2017 में एक लड़की ने जालंधर के चर्च के पादरी बजिंदर पर आरोप लगाया था कि उसने विदेश भेजने के नाम पर उससे रेप किया और वीडियो भी बनाई। वह 21 जुलाई 2018 को दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से लंदन भागने की फिराक में था, तभी पुलिस ने उसे धर दबोचा था।

पुलिस ने पादरी बजिंदर सिंह पर रेप करने की धारा 376, 420, 354, 294, 323, 506, 147, 149 व 67 आईटी एक्ट की धारा के तहत केस दर्ज किया था।

बजिंदर के यूट्यूब पर कई ऐसे वीडियो हैं, जिसमें वह सलमान खान से लेकर कई बड़े सितारों की भविष्यवाणी करने का दावा कर रहा है। सूट-बूट और सिक्योरिटी में रहने वाला बजिंदर सिंह अपने भाषणों के दौरान सुंदर लड़कियों पर नजर रखता था। बाद में उन लड़कियों को अपनी स्पेशल टीम में शामिल करता था। जिस लड़की के साथ उसने बलात्कार किया, वह भी बजिंदर सिंह की सभाओं में जाती थी। वहीं बजिंदर ने उसे देखा और बाद में उसे अपने जाल में फँसा लिया।

बताया जाता है कि वह मूलरूप से यूपी के मुजफ्फरनगर का रहने वाला है और उसका पासपोर्ट राजस्थान का बना हुआ है, जहाँ उसकी ससुराल है। रिपोर्ट्स में यह भी सामने आया है कि वह देश भर में अलग-अलग जगह वह अपनी सभाएँ करता था। सभाओं में यह ऐसा ड्रामा करवाता था कि मानो यह सारी समस्याएँ दूर कर सकता है। दूर-दूर से लोग उसके पास आते थे और अपनी समस्याएँ उसे बताते थे।

बजिंदर दावा करता था कि वह उनकी दिक्कतें चुटकियों में दूर कर देगा। पादरी के यूट्यूब चैनल ‘Jesus Miracles‘ पर ऐसी कई घटनाओं के वीडियो आपको मिल जाएँगे। इसमें सबसे वायरल वीडियो में दिखाया गया था कि वह कैसे एक मरे हुए बच्चे को जीवित कर सकता है। इस कार्यक्रम की बहुत आलोचना भी हुई थी और कई लोगों ने कहा कि घटना से पहले बच्चे को नशीला पदार्थ दिया गया था।

उसने जल्द से जल्द लोकप्रियता हासिल करने के लिए जालंधर, अजनाला, अमृतसर, गुरदासपुर और कुराली में कार्यक्रम आयोजित किए। विदेशों में भी उसके अनुयायी थे। उनके अनुयायी उन्हें दो से चार दिनों के कार्यक्रम के लिए आमंत्रित करते थे। वह 21 जुलाई 2018 को होने वाले कार्यक्रम के लिए लंदन जा रहा था, तभी उसे दिल्ली एयरपोर्ट पर गिरफ्तार कर लिया गया था।

राष्ट्रीय मसीही संघ के सदस्य, जिनसे वह जुड़ा था, उन्होंने बताया था कि पादरी अक्सर जालंधर और चंडीगढ़ के बीच ज्यादा अपडाउन करता था। वह अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ चंडीगढ़ के सेक्टर-15 में रहता था।

रेप मामले में राष्ट्रीय मसीही संघ के सदस्यों ने कहा, “हम यह यकीन से नहीं कह सकते हैं कि हम इस मामले में उनका समर्थन करेंगे या नहीं। हमारे पास अभी इस मामले से जुड़े कोई भी तथ्य नहीं हैं।” वहीं, जालंधर के पीआरओ फादर पीटर ने कहा कि पादरी किसी भी तरह से हमारे साथ नहीं जुड़ा था। उसने अपना स्वतंत्र चर्च चलाया, जिसे मान्यता भी नहीं थी। उसके प्रचार करने का तरीका मेनलाइन चर्चों के अनुरूप नहीं था।

बता दें कि पादरी चर्च ऑफ विजडम एंड ग्लोरी चला रहा था, जो एक पेंटेकोस्टल चर्च, जिसे उसने करीब 2016 में नकोदर रोड पर ताजपुर गाँव में स्थापित किया था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति