Thursday , October 28 2021

UP Cabinet Expansion: योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट में शामिल हुए 7 मंत्री, इन चेहरों ने ली शपथ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का लखनऊ स्थित राजभवन में रविवार को कैबिनेट विस्तार हो गया. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से चंद महीने पहले हुए कैबिनेट विस्तार में सात चेहरों ने मंत्री पद की शपथ ली है. कांग्रेस से हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए जितिन प्रसाद, बीजेपी नेता पलटू राम, संगीता बिंद आदि के नाम शामिल हैं. उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने सातों नेताओं को शपथ दिलवाई.

पूर्व यूपीए सरकार में मंत्री रहे जितिन प्रसाद को योगी सरकार में मंत्री बनाया गया है. वह एक ब्राह्रण चेहरा हैं, जिन्होंने जून महीने में कांग्रेस को अलविदा कह दिया था और बीजेपी का दामन थाम लिया था. जितिन प्रसाद अभी विधायक नहीं हैं. यूपी सरकार ने जितिन प्रसाद को अन्य तीन नेताओं के साथ विधान परिषद में लाने के लिए नाम भेज दिए हैं. वह साल 2004 में पहली बार लोकसभा पहुंचे. पिता जितेंद्र प्रसाद भी कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे हैं.

छत्रपाल गंगवार को यूपी सरकार में मंत्री बनाया गया है. वह बरेली के बहेड़ी से विधायक हैं और साल 2007 में पहली बार विधानसभा पहुंचे. गंगवार ने दूसरी बार साल 2017 में विधानसभा चुनाव जीता है और वह बीजेपी के जिला मंत्री रह चुके हैं. यूपी के बलरामपुर से विधायक पलटू राम ने मंत्री पद की शपथ ली. वह पहली बार विधायक बने हैं और अनुसूचित जाति के नेता हैं. इसके बाद डॉ. संगीता बलवंत बिंद ने मंत्री पद की शपथ ली. संगीता बिंद की कई रचनाएं भी प्रकाशित हो चुकी हैं और वह गाजीपुर सदर से वर्तमान में विधायक हैं. वह पार्टी की पिछड़ी जाति की नेता हैं.

साल 2017 में ओबरा सीट से विधायक बने संजय कुमार गोंड को मंत्री बनाया गया है. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने संजय कुमार को मंत्री पद की शपथ दिलवाई. वहीं, दिनेश खटीक को भी राज्य मंत्री बनाया गया है. वह मेरठ के हस्तिनापुर से विधायक हैं और अनुसूचित जाति से आते हैं. यूपी विधान परिषद के सदस्य धर्मवीर प्रजापति को योगी सरकार में राज्य मंत्री बनाया गया है. उन्होंने राजभवन में मंत्री पद की शपथ ली. प्रजापति प्रदेश बीजेपी में अहम पद संभाल चुके हैं और आगरा के रहने वाले हैं.

वहीं, योगी कैबिनेट के विस्तार से पहले सरकार ने शामली से शामली से चौधरी वीरेंद्र सिंह गुर्जर, मुरादाबाद से गोपाल अंजान भुर्जी, शाहजहांपुर से जितिन प्रसाद और गोरखपुर से संजय निषाद के नाम को विधान परिषद के लिए भेज दिया है. बता दें कि उत्तर प्रदेश में अगले साल फरवरी-मार्च में कई अन्य राज्यों के साथ विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. बीजेपी ने दावा किया है कि प्रदेश में फिर से उसकी सरकार बनने जा रही है. उधर, सपा, बसपा, कांग्रेस ने भी अपनी जीत के दावे किए हैं.

बीजेपी की जमीन खिसक चुकी है: सपा
वहीं, मंत्रिमंडल विस्तार पर समाजवादी पार्टी की प्रतिक्रिया भी सामने आई है. सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा है कि प्रदेश में बीजेपी की जमीन खिसक चुकी है, इसलिए जातिगत समीकरण को साधने के लिए मंत्रिमंडल विस्तार किया जा रहा है. वहीं, उत्तर प्रदेश में योगी मंत्रिमंडल विस्तार पर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने तीखी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा है कि पिछड़े और दलित समाज को गुलाम बनाने के लिए ये तीतर पैदा किए जा रहे हैं. उन्होंने आगे कहा, ”तीतर जाएगा, तीतर की बोली बोलेगा, तीतर को इकट्ठा करेगा और तीतर मारे जाएंगे. यह काम करने के लिए तीतर पैदा किए जा रहे हैं.”

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति