Sunday , May 29 2022

भारत से उड़कर गिरी विचित्र वस्तु, पाक सेना का दावा; कहा- खतरे में आए कई विमान

इस्लामाबाद। पाकिस्तानी सेना ने गुरुवार को दावा किया कि उसके पंजाब सूबे में खानेवाल जिले के मियां चन्नू में भारत से कथित तौर पर उड़कर आई एक वस्तु गिरकर ध्वस्त हो गई। यह वाकया बुधवार नौ मार्च को शाम पौने सात बजे का है। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने मीडिया को बताया कि भारतीय क्षेत्र से तेज गति से उड़ने वाली एक वस्तु पाकिस्तानी क्षेत्र में पहुंची और जमीन पर गिरकर नष्ट हो गई। इस घटना में नागरिक क्षेत्र की संपत्ति को क्षति हुई है लेकिन किसी की जान नहीं गई।

उड़ रही थी 40,000 फीट की ऊंचाई पर

भारतीय पक्ष की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। प्रवक्ता ने बताया कि इस वस्तु को सतह से लांच किया गया था। एक सवाल के जवाब में प्रवक्ता ने कहा कि इसे मार गिराया नहीं गया बल्कि यह अपने आप दुर्घटनाग्रस्त हुई। प्रवक्ता ने दावा किया कि यह वस्तु 40,000 फीट की ऊंचाई पर उड़ रही थी। इसने उस समय पाक के हवाई क्षेत्र में मौजूद कई विमानों को खतरे में डाल दिया था। इस वस्तु ने गिरने से पहले करीब 207 किमी की यात्रा की।

रावलपिंडी में मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने कहा कि पाकिस्तान ने इस घटना की कड़ी निंदा की है और भारत से स्पष्टीकरण मांगा है। उन्होंने दावा किया कि भारत से पाकिस्तान में प्रवेश करने के बाद इस विचित्र वस्तु का स्पीड 124 किलोमीटर प्रति घंटे था। उन्होंने कहा कि हमने समय पर वस्तु का पता लगाया और स्टेंडर्ड आपरेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) के अनुसार आवश्यक कार्रवाई की। बाबर ने यह भी बताया कि इस घटना के कारण कोई हताहत नहीं हुआ।

आईएसपीआर ने कहा कि 9 मार्च को शाम 6:43 बजे, पाकिस्तान वायु सेना के एयर डिफेंस आपरेशन सेंटर ने भारतीय क्षेत्र के अंदर एक तेज गति से उड़ने वाली वस्तु की पहचान की। हालांकि यह अपने शुरुआती पथ से भटक गया और पाकिस्तानी क्षेत्र में प्रवेश कर गया और क्रैश हो गया। इस कारण पाकिस्तान के नागरिक प्रतिष्ठानों को कुछ नुकसान हुआ।

हो सकता था बड़ा नुकसान- पाकिस्तान

पाकिस्तान ने दावा किया कि इस वस्तु के उड़ान पथ ने पाकिस्तान और भारत दोनों में नागरिकों को खतरे में डाल दिया। इस मामले में भारत से स्पष्टीकरण मांगा गया है जिसमें इसका कारण पूछा गया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति