Tuesday , June 28 2022

मदरसा टीचर की शिकायत पर मुंबई पुलिस ने नुपूर शर्मा के खिलाफ दर्ज की दूसरी FIR: पहली कंप्लेन दंगा फैलाने वाले रजा अकादमी ने की थी

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की महिला नेता नुपूर शर्मा के ऊपर दूसरी एफआईआर मुंबई के मुंब्रा पुलिस थाने में दर्ज हुई है। मुंबई पुलिस ने इस एफआईआर की पुष्टि करते हुए बताया कि ये केस भी नुपूर के खिलाफ मजहबी भावनाओं को ठेस पहुँचाने के इल्जाम में हुआ। ये एफआईआर मोहम्मद गुफरान खान नामक एक मदरसा टीचर ने करवाई है।

मुंब्रा पुलिस ने जानकारी साझा करते हुए कहा, “भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा के खिलाफ ठाणे के मुंब्रा पुलिस स्टेशन में एक और मामला दर्ज किया गया है। कथित तौर पर शत्रुता को बढ़ावा देने, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए आईपीसी की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।”

शिकायतकर्ता मोहम्मद गुफरान खान ने कहा कि उन्हें वॉट्सऐप के जरिए ज्ञानवापी पर हुए डिबेट का लिंक मिला था जिसमें नुपूर शामिल थीं। उन्होंने डिबेट शो में पैगंबर मोहम्मद और उनकी बीवी को लेकर आपत्तिजनक बात कही थी, जिसे सुन वे आहत हुए और उन्होंने शिकायत करवाई। मुंबई पुलिस ने ये केस आईपीसी की धारा 153 (ए) (बी) और 295 (ए), 298 और 505 के तहत केस दर्ज किया है।

पुलिस थाने के अधिकारी ने अपने बयान में कहा कि शर्मा का बयान दो समुदायों के बीच नफरत को बढ़ावा देने वाला है इसलिए उन्होंने इस संबंध में एफआईआर की है। मामले में कार्रवाई करने से पहले पुलिस नुपूर का पक्ष भी जानेगी। बता दें इससे पहले इमाम काउंसिल ने मुंब्रा पुलिल थाने में जाकर नुपूर शर्मा के खिलाफ ज्ञापन दिया था।

बता दें कि इससे पहले रजा अकादमी ने नुपूर शर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी है। दिलचस्प बाच ये है कि यही रजा अकादमी खुद हिंसा और हिंदुओं के खिलाफ भड़काऊ बयान देने के मामले में खुद विवादों में रहा है। रजा अकादमी की शिकायत पर शर्मा के खिलाफ मुंबई पुलिस ने IPC की धारा 295A, 153A और 505B के तहत मामला दर्ज किया गया है।

डिबेट शो के बाद नुपूर शर्मा को मिल रही धमकियाँ

उल्लेखनीय है कि 26 मई 2022 की शाम को टाइम्स नाउ पर एक बहस के बाद AltNews के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर ने शर्मा पर पैगंबर मुहम्मद का अपमान करने का आरोप लगाते हुए एक ऑनलाइन कैंपने चलाया था। इसके बाद कट्टरपंथी नुपूर को और उनके परिवार को जान से मारने और रेप की धमकियाँ देने लगे। जबकि हकीकत में डिबेट शो के दौरान नुपूर ने ज्ञानवापी के शिवलिंग पर बन रहे मजाक को आधार बनाकर पूछा था कि क्या जैसे उनके भगवान का मजाक उड़ रहा है वो भी दूसरे मजहब पर इस तरह बात रख सकती हैं?

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.