Wednesday , June 29 2022

Sidhu Moose Wala के मर्डर का प्लान राजस्थान के SIKAR में बना, पढ़ें चौंकाने वाली इनसाइड स्टोरी

चंडीगढ़। पंजाब के मशहूर गायक और कांग्रेस नेता शुभदीप सिंह सिद्धू (28) उर्फ सिद्धू मूसेवाला की मानसा में 29 मई 2022 की शाम को गोली मारकर हत्या किए जाने को चार दिन हो गए, मगर मुख्य आरोपी अभी भी पुलिस पकड़ से दूर हैं। अब सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के तार राजस्थान के सीकर से भी जुड़ रहे हैं।

सिधु मूसे वाला की जान लेने की साजिश राजस्थान के सीकर में रची

सिधु मूसे वाला की जान लेने की साजिश राजस्थान के सीकर में रची

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस की जांच में जुटी पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं, जिनके अनुसार सिधु मूसे वाला की जान लेने की साजिश राजस्थान के सीकर में रची गई। सीकर सिधु मूसेवाला हत्या की योजना बनाने के बाद पंजाब के मानसा जिले के गांव मूसा में सात दिन तक सिधु मूसेवाला के घर की रेकी की गई। सात हमलावरों से 5 शॉर्प शूटर थे

सात हमलावरों से 5 शॉर्प शूटर थे

सिधु मूसेवाला हत्याकांड में शामिल सात हमलावरों से 5 शॉर्प शूटर थे। तलवंडी साबो और राजस्थान के सीकर से लाई गई गाड़ियां सिधु मूसेवाला मर्डर में इस्तेमाल की गई। बोलेरो गाड़ी सीकर से बिश्नोई गैंग के गुर्गे ने खरीदी थी। हत्या का एक आरोपी राजस्थान और शेष पंजाब के रहने वाले हैं।

आरोपी संदीप जाट और दिनेश यादव गिरफ्तार

खबर है कि पुलिस की 25 टीमें​ राजस्थान, दिल्ली, पंजाब व उत्तराखंंड में सिधु मूसेवाला की हत्या की आरोपियों की तलाश में छापे मार रही है। इधर, धौलपुर एसपी नारायण टोगस के अनुसार आरोपी संदीप जाट और दिनेश यादव को गुरुवार को गिरफ्तार किया है। दोनों गुड़गांव के पटौदी इलाके के रहने वाले हैं। फिलहाल दोनों आरोपियों से पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के मर्डर को लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। दोनों लॉरेंस बिश्नोई गैंग के दो गुर्गे हैं।

सीकर का एक और कनेक्शन है

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड से सीकर का एक और कनेक्शन है। वो यह है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले गैंगस्टर कुख्यात गोल्डी बराड़ के राजस्थान की लेडी डॉन अनुराधा चौधरी से संबंध रहे हैं। लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ा गोल्डी बराड़ व लेडी डॉन अनुराधा कभी क्राइइम पार्टनर रहे हैं।

अनुराधा गैंगस्टर आनंदपाल गैंग से जुड़ गई

अनुराधा गैंगस्टर आनंदपाल गैंग से जुड़ गई

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीकर जिले के फतेहपुर शेखावाटी के गांव अलफसर रहने वाली लेडी डॉन अनुराधा चौधरी की शादी दीपक मिन्ज से हुई थी। शादी के बाद यह कपल शेयर ट्रेडिंग के धंधे में उतरा। नुकसान होने पर कर्ज में डूबे। कर्ज उतारने के लिए अनुराधा पति को छोड़कर राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल गैंग से जुड़ गई।

लॉरेंस बिश्नोई की गैंग को ज्वाइन कर लिया

लॉरेंस बिश्नोई की गैंग को ज्वाइन कर लिया

साल 2017 में चूरू​ जिले के गांव मालासर में आनंदपाल सिंह का एनकाउंटर होने के बाद अनुराधा ने लॉरेंस बिश्नोई की गैंग को ज्वाइन कर लिया। इसके बाद धीरे-धीरे उसका संपर्क काला जठेड़ी और गोल्डी बराड़ के साथ हुआ। इनके साथ मिलकर अनुराधा ने इंटरनेशनल क्राइम सिंडिकेट तैयार किया था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.