Friday , August 12 2022

महाराष्ट्र में सब करते रहे उद्धव-शिंदे की बात, धीमे से कांग्रेस में हो गया खेल!

मुंबई। शिवसेना के टूटने की खबर तो सभी जानते हैं, लेकिन महाराष्ट्र कांग्रेस में भी सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है, हाल ही में हुए एमएलसी चुनाव और फ्लोर टेस्ट में कांग्रेस के कुछ विधायकों ने अपनी पार्टी के लिये मुश्किलें खड़ी कर दी, पिछले महीने हुए विधान परिषद चुनाव में कांग्रेस के 7 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की थी, तो वहीं फ्लोर टेस्ट में मतदान के दौरान 11 विधायक गायब रहे थे।

विधायकों ने क्यों की क्रॉस वोटिंग

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नसीम खान ने कहा कि कांग्रेस नेतृत्त्व ने एमएलसी चुनाव में पार्टी नेत चंद्रकांत हंडोरे की हार की गंभीरता से संज्ञान लिया है, क्योंकि 7 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की थी। नसीम खान ने एक न्यूज एजेंसी से कहा कि उन्होने हंडोरे के साथ बुधवार को दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी से मुलाकात की, प्रदेश की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की, उन्होने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व ने एक वरिष्ठ दलित नेता हंडोरे की हार को गंभीरता से लिया है, उन्हें पहली वरीयता के 29 वोट आवंटित किये गये थे, लेकिन उन्हें सिर्फ 22 वोट मिले, उन्हें दूसरी वरीयता को कोई वोट नहीं मिला। नसीम खान के अनुसार कांग्रेस के 7 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की, इसकी जांच की जानी चाहिये, भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचने के लिये एहतियाती कदम उठाने की जरुरत है, इस बीच कांग्रेस की प्रदेश इकाई के सूत्रों ने कहा कि नेतृत्व पिछले एक पखवाड़े के घटनाक्रम की समीक्षा करने के लिये एक पर्यवेक्षक की नियुक्ति करेगा, मालूम हो कि एमएलसी चुनाव 20 जून को हुआ था।

फ्लोर टेस्ट से 11 विधायक गायब

महाराष्ट्र विधानसभा में हुए फ्लोर टेस्ट के दौरान कांग्रेस के 11 विधायक सदन से गायब थे, जो विधायक वोटिंग में हिस्सा नहीं ले पाये थे, वो अशोक चव्हाण, विजय वडेट्टीवार, धीरज देशमुख, प्रणीति शिंदे, जितेश अंतापुरकर, जीशान सिद्दीकी, राजू आवले, मोहन हम्बर्दे, कुणाल पाटिल, माधवराव जवलगांवकर, और शिरीष चौधरी हैं, ये विधायक देर से पहुंचे, मतदान के समय तक सदन में प्रवेश नहीं कर पाये। आधिकारिक तौर पर इन विधायकों तथा प्रदेश कांग्रेस का दावा है कि विधायक ट्रैफिक जाम में फंस गये थे, इसलिये मतदान नहीं कर सके, लेकिन उनके स्पष्टीकरण को पार्टी काफी संशय की नजर से देख रहा है।

पार्टी करे कार्रवाई

पूर्व सीएम पृथ्वी राज चव्हाण पहले ही पार्टी के शीर्ष नेताओं से उन कांग्रेस विधायकों के खिलाफ कार्रवाई शुरु करने को कह चुके हैं, जिन्होने क्रॉस वोटिंग की थी, महाराष्ट्र कांग्रेस महासचिव जाकिर अहमद ने कहा कि हर कांग्रेसी चाहता है कि चंद्रकांत हंडोरे को न्याय मिले। कांग्रेस के एक नेता ने कहा कि फ्लोर टेस्ट के दौरान वोटिंग से चूकने वाले विधायकों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिये, हम समझ सकते हैं कि एक या 2 विधायक ट्रैफिक जाम के कारण वोट नहीं डाल पाये, लेकिन 11 विधायकों का देरी से आना स्वीकार्य नहीं है, हमारे 7 विधायक ऐसे हैं, जिन्होने क्रॉस वोटिंग की है, उनके खिलाफ भी एक्शन की जरुरत है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.