Friday , August 12 2022

‘मुमकिन है किसी दिन श्रीलंका की तरह PM के घर में घुस जाएं लोग, लोकतंत्र में खो चुके हैं विश्वास’, ओवैसी का केंद्र पर हमला

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जयपुर में रविवार को एक टॉक शो में केंद्र सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि संसदीय लोकतंत्र से लोगों का भरोसा उठ रहा है. देश में अभी जैसे हालात हैं, उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि मुमकिन है कि किसी दिन भारत में भी लोग प्रधानमंत्री के आवास में उस तरह घुस जाएंगे जैसे श्रीलंका में राष्ट्रपति के घर के अंदर घुस गए थे. उन्होंने कहा कि इस देश में हिंदू-मुस्लिम राजनीति के कारण केवल मुस्लिम समुदाय को ही नुकसान हो रहा है.

ओवैसी ने कहा कि आज पॉलिटिकल पार्टीज इर्रेलेवेंट हो रही हैं. चाहे दिल्ली में वकीलों का प्रदर्शन हो, किसान आंदोलन हो, सीएए बिल हो या फिर अग्निपथ योजना, नेताओं का साथ लिए बिना ही जनता खुद सड़कों पर उतरकर विरोध कर रही है. जनता को अब राजनीतिक दलों में विश्वास नहीं रहा. यह लोकतंत्र का सबसे बड़ा नुकसान है. इस पर सभी राजनीतिक पार्टियों को गंभीरता से सोचना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमें इसमें सुधार लाना होगा.

देश में कौन फैला रहा है कट्टरता: ओवैसी

एनएसए अजीत डोभाल ने एक कार्यक्रम में कहा था कि कुछ तत्व धर्म और विचारधारा के नाम पर देश में कटुता फैला रहे हैं. इस पर ओवैसी ने कहा कि अजीत डोभाल को यह बताना चाहिए कि देश में कट्टरवाद कौन फैला रहा है. उन्हें लोगों के नाम बताने चाहिए.

ओवैसी ने बताया कि उनकी पार्टी राजस्थान में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में पूरी ताकत से लड़ेगी. उन्होंने बीजेपी की टीम-बी होने के आरोप पर कहा कि एआईएमआईएम के चुनाव न लड़ने पर भी कांग्रेस हार जाती है.

राजस्थान हो या मध्य प्रदेश हर जगह ऐसा ही हो रहा है. उन्होंने कहा कि ऐसे आरोप लगते रहते हैं. राजस्थान किसी एक पार्टी का नहीं है. यह मेरा भी उतना राज्य है, जितना दूसरी पार्टियों का.

भागवत भारत में एक ही धर्म चाहते हैं: ओवैसी

पिछले दिनों असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि बीजेपी ने युवाओं के लिए रोजगार पर ध्यान क्यों नहीं दिया? उन्होंने यह भी सवाल उठाया था कि भारत में एक समुदाय के खिलाफ नफरत का भाव क्यों है? ओवैसी ने कहा था कि भारत सभी धर्मों को मानता है, ये भारत की खूबसूरती है. भागवत यह चाहते हैं कि भारत का एक धर्म हो जाए, लेकिन यह नहीं हो सकता. भारत में कई धर्मों के लोग पहले से एक साथ रहते आए हैं.

कांग्रेस का खात्मा लोकतंत्र के लिए अच्छा

हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने जबलपुर में कहा था कि कांग्रेस अब कभी सत्ता में नहीं आ सकती. वह जितनी जल्दी खत्म हो जाएगी, भारत के लोकतंत्र के लिए उतना अच्छा होगा.

ओवैसी ने कहा था कि कांग्रेस मुसलमानों से कहती है कि आप चुप रहिए, हम आपकी मदद करेंगे लेकिन हम कहते हैं कि आप शोर मचाइए हम आपका हक दिलवाएंगे. उन्होंने कहा था कि दलित, आदिवासी व मुस्लिम को अपने सियासी हक की लड़ाई के लिए जागना होगा.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.