Tuesday , June 25 2024

NDTV में 29.18 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदेगी अडानी समूह की कंपनी, दिया ओपन ऑफर

नई दिल्ली। गौतम अडानी के अगुआई वाली अडानी ग्रुप की मीडिया कंपनी AMG मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड ने अप्रत्यक्ष रूप से एनडीटीवी को खरीदने का ऑफर दिया है. अडाणी ग्रुप NDTV मीडिया समूह में 29.18% हिस्सेदारी खरीदेगा.

मिली जानकारी के अनुसार, अडानी ग्रुप की मीडिया कंपनी एएमएनएल मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड (AMNL) अप्रत्‍यक्ष तरीके से एनडीटीवी में 29.18% हिस्सेदारी प्राप्‍त करेगी. अडानी ग्रुप एनडीटीवी में हिस्सेदारी लेने के लिए ओपन ऑफर पेश करेगा. यह अधिग्रहण एएमएनएल  की पूर्ण सहयोगी इकाई विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VPCL) के जरिए किया जाएगा. एएमएनएल पर अडानी एंटरप्राइजेज का मालिकाना हक है.

इस मामले में जारी एक प्रेस रिलीज के मुताबिक, वीपीसीएल के पास आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड की 99.5% हिस्सेदारी खरीदने का अधिकार था. वीपीसीएल ने इसी राइट के जरिए हिस्‍सेदारी लेने का निर्णय लिया है. बता दें कि एनडीटीवी के पास तीन प्रमुख राष्ट्रीय चैनल्स हैं. ये एनडीटीवी 24×7, एनडीटीवी इंडिया और एनडीटीवी प्रोफिट हैं. इसके पास एक मजबूत डिजिटल प्लेटफॉर्म भी है.

AMG मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड के सीईओ संजय पुगलिया ने कहा कि यह अधिग्रहण एएमएनएल की नए युग के मीडिया का मार्ग प्रशस्त करने के लक्ष्य की यात्रा में मील का पत्थर साबित होगा. उन्‍होंने कहा कि एएमएनएल का उद्देश्‍य भारतीय नागरिकों, उपभोक्‍ताओं और भारत में दिलचस्‍पी रखने वाले लोगों को
जानकारियों और ज्ञान से सशक्‍त करना है. एनडीटीवी का समाचार के मामले में एक अहम स्‍थान है और इसकी विभिन्‍न जेनर्स और भौगोलिक क्षेत्रों में इसकी मजबूत पहुंच है. इसलिए एनडीटीवी एएमएनएल के विजन को पूरा करने के लिए सबसे उपयुक्त प्रसारण और डिजिटल प्लेटफॉर्म है.

इसी साल अप्रैल में बनी थी AMG मीडिया
अडाणी ग्रुप ने 26 अप्रैल, 2022 को AMG मीडिया नेटवर्क लिमिटेड नाम की कंपनी बनाई थी. इसमें मीडिया कारोबार को चलाने के लिए एक लाख रुपए की इनिशियल ऑथराइज्ड और पेड-अप शेयर कैपिटल का प्रबंध किया है. इसमें पब्लिशिंग, एडवरटाइजमेंट, ब्रॉडकास्टिंग समेत मीडिया से संबंधित बाकी काम शामिल हैं.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch