Thursday , June 20 2024

टीम इंडिया के चयन पर रवि शास्त्री ने उठाए सवाल, बताया कहां रह गई कमी

एशिया कप 2022 से टीम इंडिया बाहर होने के कगार पर है. पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ हार के बाद अब टीम इंडिया को इस टूर्नामेंट में बने रहने के लिए पूरी तरह से दूसरी टीमों पर निर्भर रहना होगा. खासकर पाकिस्तान और अफगानिस्तान के मैच पर सब कुछ निर्भर करेगा. अगर अगर अफगानिस्तान के खिलाफ पाकिस्तान की जीत होती है तो भारत टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगा और फिर उसका आखिरी मैच सिर्फ एक औपचारिकता रह जाएगा.

अब टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने एशिया कप में भारतीय टीम के चयन पर सवाल उठाए हैं. भारतीय स्क्वॉड में तेज गेंदबाजों की कमी पर चर्चा करते हुए शास्त्री ने कहा कि वह मोहम्मद शमी को टीम में नहीं देखकर हैरान हैं. भारत के पूर्व ऑलराउंडर ने कहा कि शमी वह अतिरिक्त तेज गेंदबाजी विकल्प प्रदान कर सकते थे जो आवेश खान के अनफिट होने के बाद महसूस की गई.

पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी ओवर में मिली हार के बाद भारत ने श्रीलंका के खिलाफ रवि बिश्नोई की जगह रविचंद्रन अश्विन को चांस दिया और दिनेश कार्तिक एक बार फिर बेंच पर बैठे रहे. आवेश खान के अनफिट होने का मतलब था कि भारत के पास भुवनेश्वर कुमार और अर्शदीप सिंह के रूप में केवल दो विशेषज्ञ तेज गेंदबाज थे.

सिलेक्शन और बेहतर हो सकता था: शास्त्री

शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘जब आपको जीत की जरूरत होती है, तो आपको बेहतर तैयारी करनी होती है. मुझे लगता है कि चयन बेहतर हो सकता था, खासकर तेज गेंदबाजों का. आप यहां की परिस्थितियों को जानते हैं. इसमें स्पिनर के लिए बहुत कुछ नहीं है. मुझे काफी आश्चर्य हुआ कि आप यहां सिर्फ चार तेज गेंदबाजों (हार्दिक सहित) के साथ आए. आपको उस अतिरिक्त गेंदबाज की जरूरत थी. मोहम्मद शमी जैसा कोई प्लेयर घर पर बैठे, यह मुझे चकित करता है.

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम भी एशिया कप के लिए भारतीय टीम में शमी को शामिल करने की वकालत करते रहे. अकरम ने शास्त्री से पूछा कि टीम के चयन में कोच का क्या इनपुट होता है? इस पर शास्त्री ने कहा, ‘कोच भले ही चयन समिति का हिस्सा नहीं होता है, लेकिन वह यह कहकर योगदान दे सकता है कि ‘यह वह कॉम्बिनेशन है जो हम चाहते हैं’. यह कप्तान की जिम्मेदारी होती है कि वह बैठक में कोच की बात को आगे ले जाए. टीम में एक स्पिनर की जगह अतिरिक्त तेज गेंदबाज होना चाहिए था.’

फॉर्म में रहे हैं मोहम्मद शमी

ऐसा नहीं है कि 31 साल के मोहम्मद शमी फॉर्म में नहीं हैं. हालिया इंग्लैंड दौरे में वह वनडे सीरीज में भारत के सफलतम गेंदबाजों में शामिल थे. साथ ही आईपीएल 2022 में भी गुजरात टाइटन्स के लिए उनका प्रदर्शन अच्छा रहा था. शमी के खिलाफ एक बात जरूर जाती है कि वह पिछले वर्ल्ड कप के बाद टी20 इंटरनेशनल में भाग नहीं लिया है. लेकिन एशिया कप जैसे बड़े टूर्नामेंट्स में शमी जैसे अनुभवी गेंदबाज की कमी टीम को खल रही है.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch