Thursday , June 20 2024

बसपा प्रमुख का ट्वीट देख स्वाती सिंह का छलका दर्द, बताया किसान व महिला विरोधी

एसी रूम से राजनीति करने वाली मायावती नहीं समझ सकतीं किसानों का दर्द: स्वाती सिंह

लखनऊ। जो हमेशा से महिला व किसानों का विरोधी रहा हो, वह आज ट्विटर-ट्विटर खेल रहा है। क्या मायावती इस बात को भूल गयीं, जब गुंडों को उन्होंने हमारे आवास पर भेजा था। उनके भेजे हुए गुंडों हमारी बच्ची और हमारे साथ हर स्तर पर अभद्रता के लिए उतारू थे। वे किसानों का दर्द क्या समझ सकती हैं, जो कभी एसी रूम से निकली हीं नहीं। यह बातें प्रदेश सरकार की पूर्व मंत्री स्वाती सिंह ने कही।

स्वाती सिंह ने बसपा प्रमुख मायावती द्वारा भाजपा पर किसानों की उपेक्षा किये जाने के आरोपों के जवाब में यह बातें कहीं। बसपा प्रमुख ने गुरुवार को ट्वीट किया था, “यूपी जैसे विशाल किसान समाज वाले प्रदेश में फसल सुरक्षा व भण्डारण आदि के लिए अगले पांच वर्षों में 192 करोड़ अर्थात् प्रति वर्ष मात्र करीब 38 करोड़ रुपये खर्च करने की ताज़ा घोषणा क्या ऊंट के मुंह में ज़ीरा के बराबर नहीं लगती है? सरकार इनकी भी उपेक्षा करना बंद करे।”

पूर्व मंत्री स्वाती सिंह ने कहा कि इतिहास के पन्नों में मायावती का नाम किसान विरोधी और महिला विरोधी के रूप में दर्ज होगा। मायावती को पहले यह समझना होगा कि हमारे ऊपर किये हमले के बाद से वे लगातार नीचले पायदान की ओर खिसक गयीं। अब तो बसपा मरणासन्न अवस्था में है। इसका कारण है कि जनता को बहुत दिनों तक झांसे में रखकर शासन नहीं किया जा सकता।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch