Monday , December 5 2022

हैदराबाद में इतिहास रचने का मौका, ऑस्ट्रेलिया को मात देकर सीरीज पर कब्जा करने की तैयारी में भारत

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज का आखिरी मुकाबला आज (25 सितंबर) हैदराबाद में खेला जाना है. पहले मुकाबले में जहां ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत को चार विकेट से पराजित किया था. वहीं दूसरे टी20 मैच में भारत ने छह विकेट से जीत हासिल की थी. ऐसे में अब तीसरा मैच सीरीज के लिहाज से निर्णायक हो गया है. दोनों में से जो भी टीम यह मुकाबला जीतेगी, वह टी20 सीरीज पर कब्जा जमा लेगी.

मुकाबले में सबकी निगाहें हर्षल पटेल और युजवेंद्र चहल पर होंगी, जो अबतक बेअसर साबित हुए हैं. भारत ने नागपुर में जीत दर्ज करके सीरीज भले ही बराबर कर ली हो, लेकिन हर्षल और चहल की फॉर्म चिंता का विषय बन चुका है. भारतीय टीम टी20 विश्व कप से पहले इन दोनों को फॉर्म में वापसी करते हुए देखना चाहेगी. भारत के लिए जसप्रीत बुमराह की वापसी अच्छी खबर है लेकिन तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की खराब फॉर्म चिंता का विषय है. भुवनेश्वर को दूसरे टी20 मैच से बाहर बैठना पड़ा था.

डेथ ओवर्स स्पेशलिस्ट हर्षल ने चोट से उबरने के बाद वापसी की है लेकिन वह आत्मविश्वास से भरे हुए नहीं दिखे. हर्षल ने मौजूदा सीरीज में कुल छह ओवरों में 81 रन लुटाए हैं और वह सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए हैं. हर्षल को लेंथ हासिल करने में दिक्कत आ रही है और उन्हें अभी तक एक भी विकेट नहीं मिला है. जहां अक्षर पटेल का अच्छा प्रदर्शन टीम लिए अच्छी खबर है वहीं चहल की खराब फॉर्म चिंता का विषय. इस लेग स्पिनर ने एशिया कप में काफी रन लुटाए थे और आस्ट्रेलिया के खिलाफ भी इसमें बदलाव नहीं आया है.

बल्लेबाजों से अच्छे प्रदर्शन की आस

बल्लेबाजी में रोहित, केएल राहुल और विराट कोहली को अपने प्रदर्शन में निरंतरता कायम रखने की जरूरत है. सूर्यकुमार यादव भी पिछले मैच में अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाए, लेकिन राहत की बात यह है कि हार्दिक पंड्या लगातार बढ़िया खेल दिखा रहे हैं. भारत के बल्लेबाजों की एक और कमजोरी लेग स्पिन है, जिसका एडम जाम्पा खूब फायदा उठा रहे हैं.

ऑस्ट्रेलियाई टीम की भी बॉलिंग बेदम

भारतीय टीम में फिनिशर की भूमिका निभा रहे दिनेश कार्तिक को आगे के मुकाबलों में भी मौका मिलने की संभावना है. वहीं रोहित चोटिल रवींद्र जडेजा की जगह लिए गए अक्षर को भी टीम में बनाए रखना चाहेंगे. ऑस्ट्रेलिया भी भारत की तरह अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन को लेकर चिंतित है.

पहले मैच में उसने बल्लेबाजों के दम पर जीत दर्ज की जबकि दूसरे मैच में भी कप्तान आरोन फिंच और मैथ्यू वेड ने उसे अच्छे स्कोर तक पहुंचाया था लेकिन गेंदबाज उसका बचाव करने में नाकाम रहे. विश्व कप से पहले वेड की बेहतरीन फॉर्म ऑस्ट्रेलिया के लिए बढ़िया संकेत है, लेकिन टीम प्रबंधन ऑल राउंडर ग्लेन मैक्सवेल से भी बड़ी पारी का उम्मीद कर रहा होगा.

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, रविचंद्रन अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, दीपक चाहर, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव.

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), सीन एबॉट, एश्टन एगर, पैट कमिंस, टिम डेविड, नाथन एलिस, कैमरन ग्रीन, जोश हेजलवुड, जोश इंगलिस, ग्लेन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, डेनियल सैम्स, स्टीव स्मिथ, मैथ्यू वेड, एडम जाम्पा.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.