Friday , December 2 2022

केरल की जनता को पता चल गया कि उन्‍होंने राहुल गांधी को चुनकर गलती कर दी- CM पिनाराई विजयन

त्रिचुर। केरल के मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर तीखा हमला बोला है. एक रैली को संबोधित करते हुए सीएम विजयन ने कहा कि कांग्रेस ने साल 2019 में लोकसभा की जितनी सीटें जीती थीं, वर्ष 2024 के संसदीय चुनाव में उसे बरकरार नहीं रख सकेगी. राहुल गांधी पर सीधा हमला बोलते हुए केरल के सीएम ने कहा कि प्रदेश की जनता को इस बात का एहसास हो गया है कि उन्‍होंने कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष को चुनकर गलती कर दी है. पिनाराई विजयन ने कहा कि राष्‍ट्रीय स्‍तर पर कांग्रेस केंद्र में सत्‍तारूढ़ बीजेपी का प्रतिरोध करने में पूरी तरह से असफल रही है. बता दें कि राहुल गांधी केरल के वायनाड से सांसद हैं. कांग्रेस नेता इन दिनों भारत जोड़ो यात्रा के सिलसिले में केरल में पैदल मार्च कर रहे हैं.

मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन त्रिचुर में वाम नेता ए. राघवन के शहीद दिवस पर एक रैली को संबोधित कर रहे थे. तकरीबन 1 घंटे के भाषण में उन्‍होंने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. सीएम ने भारत के 20 स्‍वतंत्रता सेनानियों में वीडी सावरकर की तस्‍वीर लगाने को लेकर भी कांग्रेस पर तंज कसा. उन्‍होंने कहा, ‘राहुल गांधी ने जब यहां (वायनाड, केरल) से चुनाव लड़ा था तो जनता को लगा था कि वह देश के प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं, लेकिन अब लोगों को पता चल गया है कि ऐसा सोचना एक गलती थी. कांग्रेस का यह ट्रिक केरल में फिर से काम नहीं करेगा. केरल से यूडीएफ के सांसद राष्‍ट्रीय स्‍तर पर भाजपा का प्रतिरोध भी नहीं कर पा रहे हैं. वे लोकसभा में केरल से जुड़े मुद्दों को उठाने में भी विफल रहे हैं.’

BJP-RSS पर भी हमला

केरल के मुख्‍यमंत्री ने भाजपा और राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ पर भी हमला बोला. उन्‍होंने कहा, ‘भाजपा और आरएसएस अब सावरकर को भगत सिंह और चंद्रशेखर आजाद की तरह स्‍वतंत्रता सेनानी के रूप में शामिल करने की कोशिश कर रहे हैं. आप लोगों ने देखा होगा कि किस तरह कांग्रेस ने चंद्रशेखर आजाद के साथ सावरकर का पोस्‍टर लगाया. इसका मतलब यह हुआ कि कांग्रेस ने भाजपा और संघ के अभियान को स्‍वीकार कर लिया है. यही वजह है कि कांग्रेस ने एर्नाकुलम में सावरकर को स्‍वतंत्रता सेनानी की लिस्‍ट में शामिल करने का फैसला किया था.’

 

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.