Friday , December 2 2022

योगी सरकार की बेहतर कानून व्यवस्था का परिणाम, NCRB की रिपोर्ट में दंगा मुक्त हुआ UP

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर एक तरफ जहां विपक्ष योगी सरकार पर हमलावर है। वहीं, दूसरी तरफ नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) की आंकड़ों ने शासन को बड़ी राहत दी है।दरअसल, NCRB के आंकड़ों के मुताबिक 2019 में प्रदेश में बच्चों के खिलाफ 18943 मामले दर्ज हुए थे, जो 2021 में घटकर 16838 हो गए हैं। यानी बाल अपराधों में 11.11 फीसदी की कमी आई है। उसी तरह 2019 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के 59853 मामले दर्ज हुए थे जो 2021 में घटकर 56083 हो गए। 2019 की तुलना में 2021 में महिला अपराधों में 6.2 फीसदी की कमी आई है।

दंगा मुक्त प्रदेश बना यूपी

जानकारी के मुताबिक, यूपी में सांप्रदायिक सौहार्द बरकरार है। NCRB की रिपोर्ट मे यूपी दंगामुक्त प्रदेश बना है। 2021 में केवल एक सांप्रदायिक हिंसा की घटना दर्ज हुई है, जबकि 2019 और 2020 में एक भी दंगा नहीं हुआ। आगरा देश की बात करें तो 2021 में कुल 378 सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं दर्ज हुईं। सबसे ज्यादा झारखंड में 100, बिहार-51, राजस्थान-22, महाराष्ट्र-77, और हरियाणा में 40 घटनाएं दर्ज की गई।

साइबर क्राइम के मामलों में भी आई कमी

इसके साथ ही एनसीआरबी के आंकड़ों की मानें तो साइबर क्राइम के मामले भी 2021 में घटकर 8829 हो गए। साइबर क्राइम के मामलों में 22.6 फीसदी की कमी आई है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.