Sunday , May 26 2024

जौहर अली खान ने दारू पीकर दिल्ली एयरपोर्ट पर किया पेशाब, लोगों को बकी गालियाँ: ‘मिश्रा-मिश्रा’ की रट लगाने वाला गिरोह चुप

नई दिल्‍ली। इंदिरा गाँधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (IGI) के गेट पर एक व्यक्ति द्वारा पेशाब करने का मामला सामने आया है। जौहर अली खान (Jauhar Ali Khan) नाम के शख्स ने एयरपोर्ट के गेट नंबर 6 के पास लोगों के सामने यह हरकत की। घटना रविवार (8 जनवरी, 2023) की है। जौहर ने शराब पी रखी थी। पुलिस ने आरोपित को घटना के बाद गिरफ्तार किया था। हालाँकि, वह जमानत पर बाहर आ गया ।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरोपित को सऊदी अरब के दम्माम एयरपोर्ट जाना था। हालाँकि वह नशे में धुत होकर नई दिल्ली स्थित आईजीआई एयरपोर्ट पहुँचा था। इतने में वह गेट नंबर 6 के पास सबके सामने ही पेशाब करने लगा। लोगों ने जब उसे रोकने की कोशिश की तो वह उनसे झगड़ा करने लगा और गालियाँ बकने लगा। फिर हँगामा होता देख सुरक्षाकर्मी वहाँ पहुँचे और जौहर को काबू में किया। इसके बाद जौहर को गिरफ्तार कर लिया गया।

सुरक्षाकर्मी जौहर को घटना के बाद अस्पताल ले गए और उसका वहाँ मेडिकल टेस्ट करवाया गया। टेस्ट के बाद कंफर्म हो गया कि उसने शराब पी रखी थी। उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 294 और 504 के तहत मामला दर्ज किया गया। हालाँकि, दोनों धाराएँ जमानती हैं और इस वजह से वह जमानत पर रिहा हो गया। 39 वर्षीय जौहर बिहार का रहने वाला है।

उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले ही एयर इंडिया की फ्लाइट में पेशाब करने के दो मामले सामने आए थे। पहला मामला अमेरिका के ‘जॉन एफ कैनेडी एयरपोर्ट’ से दिल्ली आ रही उड़ान संख्या एआई-102 का है। 26 नवंबर, 2022 को बिजनेस क्लास में यात्रा कर रहे एक शंकर मिश्रा नामक एक शख्स ने शराब के नशे में धुत होकर करीब 70 वर्षीय एक महिला सहयात्री पर पेशाब कर दिया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपित यात्री ने कथित तौर पर महिला सहयात्री को अपने प्राइवेट पार्ट भी दिखाए थे। आरोपित शख्स दिल्ली एयरपोर्ट पर बेधड़क उतरा और चलता बना था। हालाँकि, बाद में आरोपित पर कार्रवाई हुई।

वहीं दूसरी घटना 6 दिसंबर 2022 पेरिस से दिल्ली आने वाली फ्लाइट में घटी। व्यक्ति ने नशे में धुत होकर महिला यात्री के कंबल पर पेशाब कर दिया था। विमान के पायलट के जरिए इंदिरा गाँधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर एयर ट्रैफिक कंट्रोल को इसकी जानकारी दी गई थी। जब फ्लाइट लैंड के बाद आरोपित को पकड़ा गया तो उसके नशे में होने का पता चला। हालाँकि, घटना के वक्त महिला शौचालय गई हुई थी।

ये भी याद हो कि किस तरह शंकर मिश्रा वाले मामले को लेकर पूरे भारत को बदनाम करने की कोशिश की जा रही थी और इसमें विदेशी नहीं बल्कि हमारे ही देश के वामपंथी पत्रकार शामिल थे। जहाँ राजदीप सरदेसाई ने पूछ दिया कि अगर उसके नाम में खान होता तो क्या होता, तो उनकी पत्नी सागरिका घोष ने पूरी हिंदी पट्टी को ‘बीमारू’ करार दिया। सदानंद धुमे जैसों ने तो कह दिया कि भारत के लोगों का व्यवहार ही सही नहीं है फ्लाइट्स में, जबकि कई भारतीय मानवीय कार्यों के लिए भी जाने जाते हैं।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch