Sunday , April 21 2024

हेलिकॉप्टर की सवारी, कारों का काफिला… ऐसी रही है कुश्ती के दांव में फंसे बृजभूषण शरण की शख्सियत

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गोंडा के कैसरगंज संसदीय सीट से सांसद बृजभूषण शरण सिंह विवादों में घिर गए हैं। सांसद भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष हैं। उन पर देश के प्रसिद्ध कुश्ती खिलाड़ियों ने गंभीर आरोप लगाया है। कुश्ती खिलाड़ियों ने साक्षी मलिक, विनेश फोगाट, सरिता मोर, संगीता फोगाट और बजरंग पुनिया के नेतृत्व दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया। उन्होंने बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए गए हैं। खेल मंत्रालय ने कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष से इस मामले पर जवाब-तलब किया है। उन्हें 72 घंटों में जवाब दाखिल करने को कहा है। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि खेल मंत्रालय कुश्ती महासंघ से नाराज है। वहीं, इस मामले में राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने खिलाड़ियों के पक्ष में बयान दिया है। उन्होंने खिलाड़ियों को देश का मान बढ़ाने वाला करार दिया। ऐसे में बृजभूषण शरण सिंह पर कार्रवाई की तलवार लटकने लगी है। बृजभूषण शरण को यूपी के रसूखदार राजनेताओं में माना जाता है। हेलिकॉप्टर रखने और गाड़ियों के काफिले को लेकर वे खासी चर्चाओं में रहते हैं। उनके बयान भी खूब चर्चा में रहते हैं।

हेलिकॉप्टर रखने वाले सांसद हैं बृजभूषण

कैसरगंज सांसद अपना हेलिकॉप्टर रखने वाले सांसद हैं। इसी से उनकी हैसियत का अंदाजा लगाया जा सकता है। अपने हेलिकॉप्टर के साथ वे कई मौकों पर तस्वीर जारी करते रहे हैं। हेलिकॉप्टर से चलने के कारण उन्हें देखने वाले लोगों की भारी भीड़ उमड़ती है। वे अपने कार्यकर्ताओं को जोड़कर रखने वाले नेता के रूप में जाने जाते हैं। इसको लेकर भी क्षेत्र में उनकी लोकप्रियता काफी है।

गाड़ियों का चलता है काफिला

बृजभूषण शरण सिंह के साथ गाड़ियों का काफिला लगातार चलता है। बड़ी संख्या में उनके समर्थक उनके साथ चलते हैं। बृजभूषण के काफिले में सफेद एसयूवी का काफिला चलता है। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत के बाद उनके काफिले की खासी चर्चा हुई थी। सफेद गाड़ियों के बीच बृजभूषण शरण का काफिला सड़कों से गुजरा तो लोगों ने उनके रसूख की खूब चर्चा की।

महाराष्ट्र केसरी कार्यक्रम में शामिल हुए थे बृजभूषण

बृजभूषण शरण सिंह पिछले दिनों महाराष्ट्र केसरी 2023 कार्यक्रम में शामिल हुए थे। इस दौरान वे महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडनवीस के साथ चिंतन करते दिखे थे। कुश्ती संघ के अध्यक्ष के रूप में वे इस कार्यक्रम में भाग लेने गए थे। इस दौरान उनका पुणे में जोरदार स्वागत हुआ था।

रांची में एक खिलाड़ी को मार दिया था पत्थर

रांची में दिसंबर 2021 में कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह का अलग रूप देखने को मिला था। उन्होंने गणपत राय इंडोर स्टेडियम में चल रहे अंडर-15 राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता के दौरान एक खिलाड़ी पर थप्पड़ चला दिया था। यूपी के खिलाड़ी को थप्पड़ मारे जाने के बाद वहां खिलाड़ियों ने उनके खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। दरअसल, एज वेरिफिकेशन के दौरान यूपी के एक पहलवान को 15 साल की आयु से अधिक का पाया। उसे स्टेज से नीचे जाने को कहा गया। खिलाड़ी ने विरोध किया तो अध्यक्ष ने उसे चांटा जड़ दिया था।

लोगों के बीच रहने के कारण बढ़ी है लोकप्रियता

कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह की लोकप्रियता अपने इलाके में काफी ज्यादा लोकप्रिय है। लोगों को अपने साथ जोड़े रखने के लिए वे लगातार उनके बीच मौजूद रहते हैं। इसका खासा प्रभाव दिखता है। जनता के बीच उनकी मौजूदगी का परिणाम है कि गोंडा के इलाके में पार्टी बदलते रहने के बाद भी उनकी जीत हमेशा होती रही है। पिछले दिनों उनकी राजनीतिक महत्वाकांक्षा भी सामने आई थी। वे लोकसभा चुनाव 2024 के लिए दो सीटों पर दावेदारी करते दिख रहे हैं।

योगी सरकार से नाराजगी आई सामने

बृजभूषण शरण सिंह की सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ नाराजगी का मुद्दा खूब गरमाता रहा है। पिछले दिनों गोंडा, बलरामपुर में आई बाढ़ जैसी स्थिति के बाद वे प्रभावित इलाकों का भ्रमण करते नजर आए थे। इस दौरान उन्होंने अपनी ही पार्टी को जमकर घेरा। एक मौके पर उन्होंने कहा था कि बाढ़ से पहले सरकार के स्तर पर आपदा से निपटते की तैयारी की जाती थी। तैयारियों की समीक्षा के लिए बैठक होती थी। मुझे नहीं लग रहा है कि इस बार कोई तैयारी बैठक हुई है। सीएम योगी आदित्यनाथ तक इस प्रकार का मामला न पहुंचने के सवाल पर बृजभूषण शरण ने कहा था कि मेरे मुंह से कुछ न कहलवाइए। मैंने अपने जीवन में ऐसी बदइंतजामी नहीं देखी।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch