Sunday , April 21 2024

कांग्रेस के प्लान पर फिर रहा पानी, भारत जोड़ो यात्रा के समापन में नहीं आएंगे ये साथी

नई दिल्ली। कांग्रेस की 5 महीने तक चली भारत जोड़ो यात्रा का 30 जनवरी को श्रीनगर में समापन हो रहा है। राहुल गांधी के नेतृत्व में तमिलनाडु से जम्मू-कश्मीर तक निकली इस यात्रा के समापन कार्यक्रम को कांग्रेस बड़े इवेंट में तब्दील करना चाहती थी। लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है। जेडीयू, जेडीएस, टीएमसी, सपा और बसपा जैसे दलों ने इसमें शामिल होने से ही इनकार कर दिया है। ये वो पार्टियां हैं, जिन्हें कांग्रेस समान विचारधारा वाले दलों के तौर पर देखती रही है। इन दलों के इनकार से कांग्रेस के मेगा शो को करारा झटका लगा है। आम चुनाव से करीब डेढ़ साल पहले विपक्षी दलों के कांग्रेस के साथ आने से इनकार ने साफ कर दिया है कि भाजपा के खिलाफ अभी एकता कमजोर है।

अब्दुल्ला और मुफ्ती ने इस आयोजन में शामिल होने की बात भी कही है। शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में हो रहे इस आयोजन में कांग्रेस बड़ी भीड़ जुटाने की तैयारी में है। 11 जनवरी को कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने देश भर के 24 दलों को इस आयोजन का न्योता भेजा था। पूर्व पीएम और जेडीएस सांसद एचडी देवेगौड़ा ने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे मल्लिकार्जुन खड़गे ने आमंत्रित किया था, लेकिन मैं पहुंच नहीं सकूंगा। मैंने राहुल गांधी को अपनी ओर से शुभकामनाएं दी हैं। मैं इस प्रयास के लिए उनकी सराहना करता हूं। उन्होंने पूरे देश की यात्रा कर एकता का संदेश दिया है।’

इसके अलावा जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह ने भी खड़गे को खत लिखकर पहुंचने में असमर्थता जताई है। ललन सिंह ने लिखा, ‘इस बात में कोई दोराय नहीं है कि देश में लोकतांत्रिक मूल्यों का क्षरण हो रहा है। संवैधानिक संस्थाएं कमजोर हो रही है। मैं आपकी यात्रा की सराहना करता हूं। इसके समापन कार्यक्रम में मैं रहना चाहता था, लेकिन उसी दिन नगालैंड में चुनाव प्रचार में व्यस्तता है। इसलिए आ नहीं सकूंगा।’ इसी तरह टीएमसी का भी कोई बड़ा नेता नहीं पहुंच रहा है। सपा, बसपा और रालोद जैसे यूपी के प्रमुख दल पहले ही इनकार कर चुके हैं।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch