Sunday , June 16 2024

महिलाओं-बुजुर्गों को तोहफा, सस्ते घर के लिए बड़ा ऐलान… पढ़ें बजट की 10 बड़ी बातें

बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किए ये बड़े ऐलान.नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने संसद में आज देश का आम बजट (Budget 2023) पेश कर दिया. बजट में वित्त मंत्री ने टैक्स (TAX) से लेकर महिलाओं और सीनियर सिटीजन के लिए बड़े ऐलान किए हैं. यह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट था. इसके अलावा किसानों, युवाओं और छात्रों के लिए बडे़ ऐलान किए गए. निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह अमृतकाल का पहला बजट है. वित्त मंत्री ने कहा कि दुनिया ने भारतीय अर्थव्यवस्था को चमकता हुआ सितारा माना है. देश के आम बजट की 10 बड़ी बातें क्या रहीं? जान लीजिए…

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इनकम टैक्स को लेकर बड़ा ऐलान किया. अब सात लाख रुपये तक की सालाना कमाई पर कोई टैक्स नहीं देना होगा. अभी यह सीमा पांच लाख रुपये थी. व्यक्तिगत इनकम टैक्स की नई टैक्स दर 0 से 3 लाख रुपये तक शून्य, 3 से 6 लाख रुपये तक 5%, 6 से 9 लाख रुपये 10%, 9 से 12 लाख रुपये 15%, 12 से 15 लाख रुपये तक 20% और 15 लाख से ऊपर 30% रहेगी.

2. क्या सस्ता, क्या महंगा होगा?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण के दौरान कहा कि कस्टम ड्यूटी, सेस, सरचार्ज दर में बदलाव किया गया है. खिलौनों पर लगने वाले सीमा शुल्क घटाकर 13 फीसदी किया गया यानी अब खिलौने सस्ते हो जाएंगे. इसके अलावा साइकिल को भी सस्ता किया गया है. लिथियम आयन बैटरी पर कस्टम ड्यूटी में राहत दी गई है.

  • खिलौने, साइकिल, ऑटोमोबाइल सस्ते होंगे
  • इलेक्ट्रिक वाहन सस्ते होंगे
  • विदेश से आने वाली चांदी की चीजें महंगी होंगी.
  • देसी किचन चिमनी महंगी होगी
  • कुछ मोबाइल, कैमरे के लेंस सस्ते होंगे.
  • सिगरेट महंगी होगी

3. महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को तोहफा

वित्त मंत्री ने महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों के लिए बड़ा ऐलान किया है. वित्त मंत्री ने कहा कि महिला सम्मान बचत पत्र योजना शुरू होगी. इसमें महिलाओं को 2 लाख की बचत पर 7.5% का ब्याज मिलेगा. वरिष्ठ नागरिक खाता स्कीम की सीमा 4.5 लाख से 9 लाख की जाएगी.

4. बजट की 7 प्राथमिकताएं

वित्त मंत्री ने बताया कि बजट की 7 प्राथमिकताएं हैं. उन्होंने कहा कि इस बार बजट के मुख्य सात लक्ष्य हैं, जिन्हें सप्तर्षि कहा गया है.

  1. समावेशी विकास
  2. वंचितों को वरीयता
  3. बुनियादी ढांचे और निवेश
  4. क्षमता विस्तार
  5. हरित विकास
  6. युवा शक्ति
  7. वित्तीय क्षेत्र

5. पीएम आवास योजना का बजट बढ़ा

पीएम आवास योजना (PM Awas Yojana) का बजट आवंटन पहले की तुलना में 66 फीसदी बढ़ा दिया गया है. इसके बाद अब ये बजट बढ़कर 79,000 करोड़ रुपये से ज्यादा कर दिया कया है. इसके अलावा वित्त मंत्री ने कहा कि देश में 50 नए एयरपोर्ट बनाए जाएंगे.

6. एग्रीकल्चर एक्सीलेटर फंड

वित्त मंत्री ने कहा कि पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन पर ध्यान देते हुए कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर 20 लाख करोड़ रुपये किया जाएगा. कृषि से जुड़े स्टार्ट अप को प्राथमिकता दी जाएगी.  इसके लिए युवा उद्यमियों द्वारा कृषि-स्टार्टअप्स को प्रोत्साहित करने के लिए एग्रीकल्चर एक्सीलेटर फंड बनाया जाएगा.

7. डिजिटल लाइब्रेरी की स्थापना

वित्त मंत्री ने कहा कि बच्चों और युवाओं के लिए नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी स्थापित की जाएगी. 2014 से बने मौजूदा 157 मेडिकल कॉलेजों के साथ कोलोकेशन में 157 नए नर्सिंग कॉलेज स्थापित किए जाएंगे. इसके अलावा अगले 3 सालों में, सरकार आदिवासी छात्रों को समर्थन देने वाले 740 एकलव्य मॉडल स्कूलों के लिए 38,800 शिक्षकों और सहायक कर्मचारियों को नियुक्त करेगी.

8. पीएम प्रणाम योजना की शुरुआत

वित्त मंत्री ने कहा कि पीएम प्रणाम योजना की शुरूआत होगी. यह योजना वैकल्पिक उर्वरकों को बढ़ावा देने के लिए होगी. इसके अलावा गोबर्धन स्कीम के तहत 500 नए संयंत्रों की स्थापना की जाएगी. अगले 3 सालों में एक करोड़ किसानों को प्राकृतिक खेती अपनाने के लिए मदद की जाएगी. 10,000 बायो इनपुट रिसोर्स सेंटर खोले जाएंगे.

9. पर्यटन के लिए बड़ा ऐलान

बजट भाषण में वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि 50 पर्यटन स्थलों की पहचान की जाएगी. घरेलू और अंतरराष्ट्रीय पर्यटन को संपूर्ण पैकेज के रूप में इन्हें विकसित किया जाएगा. राज्यों को राजधानी में Unity Mall खोलने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. इसके तहत वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट और हैंडीक्राफ्ट आइटम को बढ़ावा मिलेगा.

10. अन्य बड़े ऐलान

अगले वित्तीय वर्ष में रेलवे के लिए 2.40 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. इसके अलावा अगले एक साल तक मुफ्त अनाज योजना के लिए 2 लाख करोड़ रुपये सरकार खर्च करेगी. पूंजी निवेश परिव्यय 33% बढ़ाकर 10 लाख करोड़ रुपये किया गया है. ये सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का 3.3% होगा.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch