Thursday , February 22 2024

बिहार CM नीतीश कुमार फिर BJP के साथ आएंगे? ये 5 घटनाक्रम कर रहे इशारा

पिछले कुछ दिनों से बिहार के राजनीतिक हलकों में अटकलों का बाजार गर्म है कि जदयू और राजद के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. खासकर तब से जब से राजद के कुछ नेता बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तेजस्वी यादव को सत्ता हस्तांतरित करने के लिए दबाव बना रहे हैं. ऐसे में चर्चाओं का बाजार गर्म है कि नीतीश कुमार एक बार फिर से यू-टर्न लेकर बीजेपी के साथ हाथ मिला सकते हैं.

बिहार के राज्यपाल की नियुक्ति

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नीतीश कुमार को फोन कर बिहार के नए राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर की नियुक्ति की जानकारी दी.

गलवान शहीद के पिता के साथ मारपीट और जेल

गलवान में शहीद हुए जय किशोर सिंह के पिता को सरकारी जमीन पर स्मारक बनाने के मुद्दे पर बिहार पुलिस द्वारा पिटाई, अपमानित और जेल में डाले जाने के मुद्दे पर नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव से अलग राय रखी. जबकि तेजस्वी ने स्पष्ट कहा कि पुलिस और स्थानीय अधिकारियों ने शहीद के पिता के साथ जो भी कार्रवाई की थी वह सही थी, वहीं दूसरी तरफ सीएम नीतीश कुमार ने मामले की जांच के आदेश दिए और कहा कि यह जांच की जानी चाहिए कि शहीद के पिता को परेशान क्यों किया गया? नीतीश के जांच के आदेश के एक दिन बाद कोर्ट ने शहीद के पिता को जमानत दे दी.

नीतीश कुमार का जन्मदिन

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 1 मार्च को जन्मदिन पर बधाई देने के लिए नीतीश कुमार को फोन किया. उसी दिन सदन में बोलते हुए नीतीश ने सदन में कहा कि राजनाथ सिंह ने उन्हें फोन किया है. माना जा रहा है कि नीतीश ऐसा कहकर सदन में मौजूद राजद को यह संदेश देने की कोशिश कर रहे थे कि उनकी और भाजपा एक बार फिर से बातचीत शुरू हो चुकी है. इसके अलावा पीएम मोदी और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सोशल मीडिया पर नीतीश कुमार को जन्मदिन की बधाई दी थी.

तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों पर कथित हमला

तमिलनाडु में काम करने वाले बिहारी मजदूरों पर स्थानीय लोगों द्वारा हमला किए जाने के संबंध में सोशल मीडिया पर कई वीडियो और खबरें आई हैं. यह मुद्दा विधानसभा में बीजेपी ने उठाया था जिसके बाद डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों पर हमले की किसी भी घटना को खारिज कर दिया था. हालांकि, भाजपा नेता से मिलने और उनकी मांग के बाद नीतीश कुमार ने 4 सदस्यीय टीम का गठन किया और मामले की जांच करने के लिए उन्हें तमिलनाडु भेज दिया.

नीतीश पहुंचे बीजेपी नेता के घर

नीतीश कुमार शनिवार को पूर्व डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के पिता के ‘श्राद्ध कर्म’ में शामिल होने के लिए कटिहार गए थे, जिनका हाल ही में निधन हो गया था. बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार तार किशोर प्रसाद के घर पर तकरीबन 1 घंटे तक रुके.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch