Thursday , February 22 2024

बिगड़े हालात के बीच भारत ने पाकिस्तान के रक्षा मंत्री को भेजा न्योता, क्या है वजह?

नई दिल्ली। भारत ने अप्रैल में नई दिल्ली में होने वाली शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में भाग लेने के लिए पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ को आमंत्रित किया है। बुधवार को एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान और चीन के साथ भारत के संबंध लंबे समय से खराब चल रहे हैं। बॉर्डर पर टेंशन और आतंकवाद के मसले पर दोनों देशों से संबंधों में खटास है।

एससीओ के विदेश मंत्रियों की बैठक मई में गोवा में होनी है, जबकि रक्षा मंत्रियों की बैठक अप्रैल में नई दिल्ली में होगी। पाकिस्तानी सरकार ने कहा है कि उसने अभी तक यह फैसला नहीं किया है कि विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी या रक्षा मंत्री आसिफ भारत में बैठकों में भाग लेंगे या नहीं। बिलावल के अलावा, चीन के विदेश मंत्री को भी भारत में होने वाली बैठक में हिस्सा लेना है। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय का कहना है कि मई में होने वाली बैठक के लिए सही समय पर फैसला लिया जाएगा।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद और बिगड़ गए रिश्ते
इसके बाद दिसंबर 2015 में, तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान का दौरा किया और कुछ दिनों बाद, पीएम मोदी ने भी पड़ोसी देश का संक्षिप्त दौरा किया। फरवरी 2019 में पुलवामा आतंकी हमले के जवाब में भारत के फाइटर जेट्स ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर को उड़ा दिया था, जिसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध गंभीर रूप से तनावपूर्ण हो गए थे। इसके अलावा, अगस्त 2019 में भारत द्वारा जम्मू और कश्मीर की विशेष शक्तियों को वापस लेने और तत्कालीन राज्य को केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने की घोषणा के बाद संबंध और बिगड़ गए थे।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch