Saturday , April 20 2024

अडानी के बाद अब इस कारोबारी पर फूटा हिंडनबर्ग का बम, लगाए कई गंभीर आरोप, 20% टूटा शेयर

अडानी ग्रुप के बाद अब अमेरिका की शार्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च ने टेक्नोलॉजी फर्म ब्लॉक इंक (Block Inc) पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक जैक डॉर्सी (Jack Dorsey’s) की अगुवाई वाले ब्लॉक इंक ने फर्जी तरीके से अपने यूजर्स की संख्या को बढ़ा दिया। वहीं, अपनी ग्राहक अधिग्रहण लागत को कम कर दिया। बता दें कि इस खबर के बाद ब्लॉक इंक के शेयरों में बड़ी गिरावट आई है। अमेरिकी बाजार तहलका मच गया है, कंपनी के शेयर 20% तक टूट गए हैं। सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर के को-फाउंडर रहे जैक डोर्सी ने Block इंक की स्थापना 2009 में की थी। यह कंपनी टेक्नोलॉजी से जुड़ी हुई है।

शॉर्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग ने अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित एक नोट में कहा, “हमारी 2 साल की जांच ने निष्कर्ष निकाला है कि ब्लॉक ने व्यवस्थित रूप से डेमोग्राफिक्स का लाभ उठाया है जो अनुचित है।” रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि यह कंपनी निवेशकों को गुमराह करती रही है और तथ्यों के साथ भी खिलवाड़ किया है। आरोप है कि कंपनी के कैश ऐप के प्रोग्राम में कई कमियां हैं। आपको बता दें कि ब्लॉक इंक 44 बिलियन डॉलर मार्केट कैप की कंपनी है।

अडानी समूह पर खुलासे के ठीक दो महीने बाद हिंडनबर्ग के फाउंडर ने 23 मार्च 2023 को तड़के सुबह ट्वीट कर नए खुलासे के बारे में बताया था। इस ट्वीट में कंपनी ने नए रिपोर्ट के आने की बात कही थी। इसमें  लिखा था- न्यू रिपोर्ट सून – अनएदर बिग वन। बता दें कि हिंडनबर्ग की अमेरिका की शॉर्ट सेलर रिसर्च फर्म है। इसके फाउंडर नाथन एंडरसन हैं।

आपको बता दें कि 24 जनवरी 2023 को हिंडनबर्ग ने अडानी समूह पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। रिपोर्ट में कहा गया था कि अडानी समूह ने शेल कंपनियों के जरिए शेयरों में हेरफेर की है। इस रिपोर्ट के बाद अडानी समूह की कंपनियों के शेयर बुरी तरह धराशायी हो गए। वहीं, गौतम अडानी की निजी दौलत में भी बड़ी गिरावट आई।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch